Top

विंबलडन : जोकोविक, राओनिक, मुगुरुजा और डेल पोट्रो दूसरे दौर में, ये तो होना ही था

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 4 July 2017 3:02 PM GMT

विंबलडन : जोकोविक, राओनिक, मुगुरुजा और डेल पोट्रो दूसरे दौर में, ये तो होना ही था
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लंदन : पूर्व नंबर-1 पुरुष खिलाड़ी सर्बिया को नोवाक जोकोविक ने मंगलवार को साल के तीसरे ग्रैंड स्लैम टूर्नामेंट विंबलडन के दूसरे दौर में जगह बना ली है। उनके अलावा विश्व की छठी वरीयता प्राप्त पुरुष टेनिस खिलाड़ी कनाडा के मिलोस राओनिक, अर्जेटीना के ज्यां डेल पोट्रो और स्पेन की महिला खिलाड़ी गार्बिने मुगुरुजा ने भी अगले दौर में प्रवेश कर लिया है।

पुरुष एकल वर्ग में जोकोविक का मुकाबला कजाकिस्तान के मारिन क्लीजान से था जो मुकाबला पूरा नहीं कर पाए और दूसरे सेट में ही चोट के कारण कोर्ट से बाहर चले गए और वापस नहीं लौटे।

इसी कारण जोकोविक को विजेता घोषित कर दिया गया। क्लीजान जब कोर्ट से बाहर गए तब जोकोविक 6-3, 2-0 से आगे थे।

वहीं, राओनिक ने जर्मनी के जेन लेनार्ड स्ट्रफ को दो घंटे 15 मिनट तक चले मुकाबले में 7-6 (7-5), 6-2, 7-6 (7-4) से मात दी।

डेल पोट्रो ने आस्ट्रेलिया के थानासी कोकिनाकिस को तीन घंटे तीन मिनट तक चले मुकाबले में 6-3, 3-6, 7-6 (7-2), 6-4 से मात दी।

महिला एकल वर्ग में मुगुरुजा को अपना मुकाबला जीतने में कोई परेशानी नहीं हुई। उन्होंने रूस की इकाटेरिना एलेक्जेंड्रोवा को 6-2, 6-4 से मात देते हुए अगले दौर में जगह बनाई।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story