×

WTC Final: टेस्ट मैच खेलने वाली टीम में होगा बड़ा बदलाव, कप्तान कोहली ने यूं बतायी मन की बात

WTC Final: विराट कोहली का मानना है कि टेस्ट क्रिकेट में अलग तरीके की तकनीक और मानसिकता की जरूरत होती है।

Virat Kohli
X

एक प्रेस कांफ्रेंस के दौरान विराट कोहली (फाइल फोटो: सोशल मीडिया)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

WTC Final: भारतीय क्रिकेट टीम (Indian Cricket Team) की आईसीसी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप (WTC) के फाइनल में न्यूजीलैंड (New Zealand) के हाथों 8 विकेट से करारी हार के बाद भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ( Virat Kohli) काफी निराश दिख रहे हैं और विश्व टेस्ट चैंपियनशिप का खिताब ना हासिल कर पाने के कारण वह भारतीय खिलाड़ियों के परफारमेंस को देखते हुए कुछ बड़ा परिवर्तन करना चाहते हैं।

ऐसा माना जा रहा है कि टेस्ट क्रिकेट खेल रहे कई खिलाड़ियों के परफॉर्मेंस से वह खुश नहीं है और जल्द ही वह कुछ बड़ा बदलाव करने के मूड में दिखाई दे रहे हैं। मैच की समाप्ति के बाद उन्होंने कहा है कि परफॉर्म करने के लिए टीम में सही मानसिकता वाले लोगों को लाने की जरूरत है। इस बयान के बाद ऐसा लगने लगा है कि विराट कोहली कुछ खिलाड़ियों से पूरी तरह से संतुष्ट नहीं है। ऐसे में वह टीम प्रबंधन से टेस्ट टीम में एक बड़े बदलाव की योजना बना रहे हैं।

कोई ऐसा पैटर्न फॉलो नहीं करना

मैच के बाद प्रेस कांफ्रेंस के दौरान विराट कोहली ने कहा कि हम भारतीय टीम को और मजबूत बनाने के लिए सभी आवश्यक चीजों के बारे में मूल्यांकन करते हुए बातचीत करना जारी रखेंगे। हमें कोई ऐसा पैटर्न फॉलो नहीं करना है, जिससे हमें लगातार नुकसान होता रहे। विराट कोहली ने साफ-साफ कह दिया कि इसके लिए हम एक या 2 साल का इंतजार नहीं करेंगे और तत्काल आगे की योजना पर काम करना शुरू करेंगे।

एक मैच के दौरान विराट कोहली (फाइल फोटो: सोशल मीडिया)
ऐसा ही कुछ टेस्ट में करने की जरूरत
विराट कोहली ने कहा कि आप लोग हमारी वनडे और टी-20 टीम को देखते होंगे। उसमें काफी गहराई दिखाई देती है। वनडे और टी-20 खेल रहे सभी खिलाड़ी आत्मविश्वास से लबरेज हैं और ऐसा ही कुछ टेस्ट क्रिकेट में भी करने की जरूरत है, ताकि टेस्ट मैच खेल रही टीम के खिलाड़ी भी अन्य दोनों टीम के खिलाड़ियों की तरह बेहतरीन परफारमेंस कर सकें।
विराट कोहली ने खिलाड़ियों से कहा कि हमें रन बनाने के तरीके को समझने के लिए निश्चित रूप से बेहतर योजनाओं पर काम करना होगा। हमें खेल के साथ तालमेल बिठाना होगा। तभी हम आगे बढ़ सकते हैं। मुझे ऐसा नहीं लगता कि इस तरह की कोई तकनीकी दिक्कत भारतीय क्रिकेट टीम के साथ आने वाली है।

एक मैच के दौरान भारतीय खिलाड़ियों के साथ कप्तान कोहली (फाइल फोटो: सोशल मीडिया)
रन न बनाने की मानसिकता
विराट कोहली का मानना है कि टेस्ट क्रिकेट में अलग तरीके की तकनीक और मानसिकता की जरूरत होती है। इसके लिए खिलाड़ियों को गंभीरतापूर्वक विचार करना होगा। हालांकि विराट कोहली ने टीम इंडिया के किसी खिलाड़ी का नाम तो नहीं लिया, लेकिन नाराजगी जरूर दिखाई। उन्होंने कहा कि कुछ खिलाड़ियों के रन न बनाने की वजह से भारतीय टीम के अन्य खिलाड़ियों पर दबाव बना। साथ ही साथ वह कुछ खिलाड़ियों के रन न बनाने की मानसिकता और इरादे को भी गलत ठहराया।
न्यूजीलैंड के साथ खेले गए मैच में ओपनर के रूप में बल्लेबाजी कर रहे शुभमन गिल और तीसरे क्रम पर बल्लेबाजी करने आने वाले चेतेश्वर पुजारा की बल्लेबाजी से विराट कोहली बहुत अधिक खुश नहीं दिखाई दिए। साथ ही साथ उन्होंने अजिंक्य रहाणे और ऋषभ पंत की ओर भी इशारा किया।
आपको बता दें कि इस टेस्ट मैच में टेस्ट क्रिकेट के विशेषज्ञ माने जाने वाले चेतेश्वर पुजारा ने पहली पारी में 54 गेंदों को खेल कर केवल 8 रन बनाए। वहीं दूसरी पारी में वह 80 गेंदों का सामना करके केवल 15 रन ही बना सके। इसके बाद उन्होंने अपना विकेट गंवा दिया। वहीं शुभमन गिल ने पहली पारी 64 गेंद खेलकर 28 रन बनाए और दूसरी पारी में 33 गेंदें खेलने के बाद केवल 8 रन ही बना पाए थे।


Dharmendra Singh

Dharmendra Singh

Next Story