Top

युवराज सिंह बोले- क्रिकेट को अलविदा कहने का सही समय

2007 का विश्वकप जिताने वाला, 2011 का विश्वकप जिताने वाला, वो छः छक्के मारने वाला युवराज सिंह, उसने आज अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास का एलान कर दिया है। जिसके बाद पूरे देश में उनके फैन्स काफी दुखी हैं।

Aditya Mishra

Aditya MishraBy Aditya Mishra

Published on 10 Jun 2019 9:37 AM GMT

युवराज सिंह बोले- क्रिकेट को अलविदा कहने का सही समय
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

मुंबई: 2007 का विश्वकप जिताने वाला, 2011 का विश्वकप जिताने वाला, वो छः छक्के मारने वाला युवराज सिंह, उसने आज अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास का एलान कर दिया है। जिसके बाद पूरे देश में उनके फैन्स काफी दुखी हैं।

यह भी पढ़ें.... कौन-कौन था मौजूद युवराज सिंह की प्रेस कांफ्रेंस के दौरान?

भारतीय क्रिकेट टीम के हरफनमौला खिलाड़ी युवराज सिंह ने सोमवार को मुंबई में प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान अपने संन्यास की घोषणा की। इस मौके पर उनके साथ पत्नी हेजल और मां भी मौजूद थी। प्रेंस कॉन्फ्रेंस के दौरान युवराज सिंह भावुक नजर आए और इससे पहले एक फिल्म दिखाई गई। युवराज सिंह ने इस प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान बताया कि यह संन्यास लेने का सबसे बेहतरीन दिन था। इतना ही नहीं उन्होंने बताया कि जब उन्हें कैंसर हुआ था तो सभी ने उनका साथ दिया था।

यह भी पढ़ें.... कुछ ऐसा रहा युवराज सिंह का अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट करियर

युवराज सिंह ने कहा कि मैंने इस खेल के लिए खून-पसीना बहाया है और अब मेरी प्राथमिकता कैंसर रोगियों की मदद करना होगी।

साल 2011 में खेले गए 10वें आईसीसी क्रिकेट विश्व कप में भारत की जीत के नायक रहे युवराज सिंह ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेला है। सीमित ओवरों के क्रिकेट में युवराज सिंह की गिनती दुनिया के कुछ चुनिंदा विस्फोटक बल्लेबाजों में की जाती है। युवराज ने साल 2011 में भारत, श्रीलंका और बांग्लादेश की संयुक्त मेजबानी में खेले गए आईसीसी विश्व कप में बल्ले और गेंद से शानदार प्रदर्शन करते हुए भारत की खिताबी जीत में अहम भूमिका निभाई थी। विश्व कप के दौरान ही युवराज को पता चला था कि उन्हें कैंसर जैसी भयानक बीमारी है। इसके बावजूद उन्होंने पूरा टूर्नामेंट खेला और किसी को भी इसकी भनक तक नहीं लगने दी। युवराज सिंह ने साल 2011 विश्व कप में कई मैच तो खून की उल्टियां करते हुए खेला था।

Aditya Mishra

Aditya Mishra

Next Story