×

Delhi MCD Results: फेल हो गए सभी Exit Poll, आप और भाजपा की सीटों का अनुमान निकला गलत

Delhi MCD Results: दिल्ली नगर निगम (MCD) के चुनाव में भाजपा के धुआंधार प्रचार के बावजूद आम आदमी पार्टी ने बाजी मार ली है। यदि हम दिल्ली एमसीडी के संबंध में किए गए एग्जिट पोल को देखें तो अधिकांश एग्जिट पोल वास्तविक नतीजे से मेल खाते हुए नहीं दिख रहे हैं।

Anshuman Tiwari
Published on: 7 Dec 2022 12:45 PM GMT
Delhi MCD Results 2022
X

Delhi MCD Results 2022 (Social Media)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Delhi MCD Results: दिल्ली नगर निगम (MCD) के चुनाव में भाजपा के धुआंधार प्रचार के बावजूद आम आदमी पार्टी ने बाजी मार ली है। आम आदमी पार्टी ने दिल्ली नगर निगम में बहुमत हासिल कर लिया है। बहुमत हासिल करने के लिए 126 सीटों की जरूरत थी जबकि आम आदमी पार्टी को 134 वार्डों में जीत हासिल हुई है। भाजपा ने 104 सीटों पर जीत हासिल की है जबकि 9 वार्डों में कांग्रेस प्रत्याशी जीतने में कामयाब रहे हैं। तीन वार्डों में अन्य प्रत्याशियों को जीत हासिल हुई है।

यदि हम दिल्ली एमसीडी के संबंध में किए गए एग्जिट पोल को देखें तो अधिकांश एग्जिट पोल वास्तविक नतीजे से मेल खाते हुए नहीं दिख रहे हैं। दिल्ली एमसीडी के संबंध में किए गए लगभग सभी एग्जिट पोल में आम आदमी पार्टी की सीटों की संख्या और ज्यादा बताई गई थी। किसी भी एग्जिट पोल में भाजपा के सौ का आंकड़ा छूने का अनुमान नहीं लगाया गया था। ऐसे में दिल्ली एमसीडी के संबंध में लगभग सभी एग्जिट पोल पूरी तरह फेल साबित होते दिखते हैं।

एमसीडी में काफी कम हुआ था मतदान

दिल्ली नगर निगम के लिए 4 दिसंबर को मतदान हुआ था। दिल्ली नगर निगम के 250 वार्डों में इस बार 1349 उम्मीदवार चुनाव मैदान में उतरे थे। हालांकि एमसीडी चुनाव में इस बार अपेक्षा के अनुरूप मतदान नहीं हुआ। सिर्फ 50.47 फ़ीसदी मतदान होने के बाद उसका अलग-अलग सियासी विश्लेषण किया जा रहा था।

इस बार के एमसीडी चुनाव में भाजपा और आम आदमी पार्टी ने सभी 250 वार्डों में अपने अपने उम्मीदवार उतारे थे जबकि कांग्रेस ने 247 वार्डों में चुनाव लड़ा था। जदयू के उम्मीदवारों ने 23 वार्डों में किस्मत आजमाई थी। असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी AIMIM ने भी 15 प्रत्याशी लड़ाए थे जबकि बसपा ने 174, इंडियन मुस्लिम लीग ने 12, भाकपा ने 3, ऑल इंडिया फॉरवर्ड ब्लॉक ने 4, NCP ने 29 और सपा व लोक जनशक्ति पार्टी (रामविलास) ने एक-एक सीट पर चुनाव लड़ा। यदि हम एग्जिट पोल और वास्तविक नतीजों का विश्लेषण करें तो लगभग सभी एग्जिट पोल पूरी तरह गलत साबित हुए हैं।

इंडिया टुडे-एक्सिस माय इंडिया

इंडिया टुडे-एक्सिस माय इंडिया के एग्जिट पोल बताया गया था कि आम आदमी पार्टी को 149 से 171 वार्डों में जीत हासिल हो सकती है। एग्जिट पोल के अनुसार भाजपा 69 से 91 वार्डों तक ही सीमित रह जाएगी। कांग्रेस को 3 से 7 सीट मिलने का अनुमान लगाया गया था। एग्जिट पोल में बताया गया था कि 5 से 9 वार्डों में दूसरे उम्मीदवार विजयी हो सकते हैं।

यदि वास्तविक नतीजों को देखा जाए तो आप को 134 सीटों पर जीत हासिल हुई है जबकि भाजपा ने 104 सीटों पर जीत हासिल की है। कांग्रेस के मामले में इस एग्जिट पोल में सही अनुमान लगाया गया था क्योंकि कांग्रेस को 9 सीटों पर जीत हासिल हुई है।

टाइम्स नाउ-ईटीजी

टाइम्स नाउ-ईटीजी के एग्जिट पोल में आप को भाजपा से आगे बताया गया था। एग्जिट पोल में निष्कर्ष निकाला गया था कि दिल्ली के एमसीडी चुनाव में आम आदमी पार्टी को 146 से 156 वार्डों में जीत हासिल हो सकती है। इस एग्जिट पोल में भी भाजपा पिछड़ती हुई दिखी थी और उसे 84 से 94 वार्डों में जीत मिलने की बात कही गई थी। कांग्रेस को 6 से 10 वार्डों में जीत मिलने जबकि अन्य उम्मीदवारों के खाते में चार वार्ड जाने का अनुमान लगाया गया था। कांग्रेस के मामले में इस एग्जिट पोल का अनुमान भी हकीकत के काफी करीब था जबकि आप और भाजपा के मामले में एग्जिट पोल पूरी तरह फेल साबित हुआ।

TV 9

TV9 के एग्जिट पोल के अनुसार आप को भाजपा पर भारी बढ़त दिखाई गई थी। इस एग्जिट पोल में कहा गया था कि आप को 145 वार्डों में जीत हासिल हो सकती है जबकि भाजपा 94 वार्डों में सिमट सकती है। कांग्रेस की हालत काफी खराब नजर आ रही है और उसे सिर्फ 8 वार्डों में जीत मिल सकती है। 3 वार्डों में अन्य उम्मीदवार जीतने संभावना जताई गई थी। कांग्रेस और अन्य उम्मीदवारों की जीत के मामले में इस एग्जिट पोल का अंदाजा भी काफी सही माना जा सकता है। आप और भाजपा के मामले में इस एग्जिट पोल का अंदाजा दूसरे एग्जिट पोल से ज्यादा बेहतर था।

जन की बात

जन की बात के एग्जिट पोल में भी आप की आंधी चलती हुई बताई गई थी। इस एग्जिट पोल में कहा गया था कि आम आदमी पार्टी को 159 से 175 वार्डों में जीत हासिल हो सकती है। भाजपा को 70 से 92 वार्डों में जीत मिलने का अनुमान लगाया गया था जबकि 4 से 7 वार्डों में कांग्रेस उम्मीदवारों को जीत मिलने की संभावना जताई गई थी। यह एग्जिट पोल पूरी तरह फेल साबित होता हुआ दिखा।

Prashant Dixit

Prashant Dixit

Next Story