diesel

शनिवार को एक बार फिर पेट्रोल और डीजल की कीमतों में कमी हुई है। शनिवार को पेट्रोल के दाम में 11 से 13 पैसे की कमी हुई है, तो वहीं डीजल की बात करें तो इसकी कीमत में 12 पैसे की कमी गई है।

श की जनता को महंगाई से थोड़ी राहत मिली है। पेट्रोल और डीजल की कीमतों में कमी आई है। गुरुवार को पेट्रोल के दाम में 8 से 9 पैसे की कमी हुई है, तो वहीं डीजल की बात करें तो इसकी कीमत में 10 से 12 पैसे तक की कमी गई है। 

देश की जनता को महंगाई से थोड़ी राहत मिली है। सरकारी तेल कंपनियों ने शनिवार को डीजल के दाम में 13 पैसे की कटौती की है, लेकिन पेट्रोल की कीमतों में कोई बदलाव नहीं हुआ है।

देश की जनता को लगातार महंगाई की मार पड़ रही है। पेट्रोल की कीमतों में लगातार छठवें दिन बढ़ोतरी हुई है। इसी कड़ी में मंगलवार को देश की राजधानी दिल्ली में पेट्रोल का दाम 11 पैसे महंगा होकर 81.73 रुपये हो गया।

कोरोना संकट के बीच देश की जनता को लगातार महंगाई की मार झेलनी पड़ रही है। पेट्रोल की कीमतों में लगातार पांचवें दिन बढ़ोतरी हुई है।

देश की जनता पर एक बार फिर महंगाई की मार पड़ी है। पेट्रोल की कीमतों में फिर बढ़ोतरी हुई है। इसी कड़ी में गुरुवार को देश की राजधानी दिल्ली में पेट्रोल का दाम 10 पैसे महंगा होकर 81 रुपये हो गया।

डीजल के दाम में फिर वृद्धि दर्ज की गई, जबकि पेट्रोल का भाव लगातार 16वें दिन स्थिर है। तेल कंपनियों ने डीजल की कीमत दिल्ली , कोलकाता , मुंबई, जबकि चेन्नई में प्रति लीटर बढ़ा दी है।

वेस्‍ट यूपी के मेरठ समेत कई स्‍थानों पर पेट्रोल और डीजल के दामों में बढ़ोत्‍तरी के विरोध का सिलसिला थमता नजर नहीं आ रहा है।

पेट्रोल-डीजल मूल्य वृद्धि के खिलाफ सरकार पर विपक्षी दलों का हमला जारी है। गुरुवार को कांग्रेस के प्रदर्शन के बाद अब शुक्रवार को समाजवादी पार्टी की मुलामय यूथ ब्रिगेड ने विधानसभा के सामने प्रदर्शन किया।

बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने पेट्रोलियम पदार्थों की मूल्य वृद्धि पर चिंता व्यक्त करते हुए सरकार से इस पर प्रभावी नियंत्रण करने की मांग की हैं।