india china

चीन ने पहली बार माना कि गलवां घाटी में हुए खूनी झड़प में उसके सैनिक भी मारे गए थे। चीन ने मारे गए अपने पांच सैनिकों की जानकारी साझा की है।

चीन के साथ लद्दाख में चल रहे सीमा-विवाद का अब हल होता नजर आ रहा है। बस, वह नजर आ रहा है। अभी हम यह नहीं कह सकते कि वह हल हो गया है। ऐसा मैं इसलिए कह रहा हूं कि पिछले साल मई में जब चीन के साथ हमारी मुठभेड़ हुई थी, तब टकराव पांच क्षेत्रों में हुआ था।

राज्यसभा में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है, “पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) के साथ कुछ अन्य बिंदुओं पर तैनाती और गश्त के संबंध में अभी भी कुछ बकाया मुद्दे हैं।"

आखिरकार पूर्वी लद्दाख में विवादित क्षेत्र से चीन की सेना पीछे हट गई। लद्दाख का एक वीडियो सामने आया है, जिसमे चीन के आर्मी टैंक बॉर्डर से वापस लौट रहे हैं।

वियतनाम (Vietnam) बॉर्डर के पास चीनी मिसाइल बेस स्थापित किया गया है। इस मिसाइल एयरबेस में जमीन से हवा में मार करने वाली मिसाइलों को तैनात किया गया।

चीनी सेना ने कन्फर्म किया है कि उनका एक सैनिक गलती से चीन-भारत सीमा क्षेत्र में चला गया है। वहीं भारत से उसे वापस भेजने की मांग की है।

IMD मौसम का अनुमान लगाकर उसके हिसाब से सेना को तैयार करने के लिए लद्दाख में 10 रडार लगाने की योजना बना रहा है। वेदर रडार से मौसम में बदलाव पर नजर रखी जाएगी।

केंद्र सरकार भारत में टेलीकॉम उपकरण उपलब्ध कराने वाली कंपनियों की एक सूची तैयार कर रही है। इन कम्पनियों से भारत की टेलीकॉम कंपनियां उपकरण खरीद सकेंगी।

सरकार ने सख्त कदम उठाने हुए पहले चाइनीज एप्स पर प्रतिबंध लगा दिया, तो वहीं अब चीन की कारोबारिक गतिविधियों को भी झटका दिया है।

चीन की ब्रह्मपुत्र नदी पर बड़ी पनबिजली परियोजना निर्माण को लेकर भारत सरकार ने अपना रुख जाहिर किया है। इस मामले में विदेश मंत्रालय ने कहा है कि भारत सरकार की ब्रह्मपुत्र पर चीन की तरफ से किए जा निर्माण पर नजर है।