Kathak Dancer Kajal Sharma

इन सारी प्रस्तुतियों में तबला पर अरुण भट्ट, हारमोनियम व गायन पं. धर्मनाथ मिश्र, सारंगी पर पं. विनोद मिश्र, पखावज पर दिनेश प्रसाद और मंजीरा पर डा. अलका यादव ने संगत की। वहीं कार्यक्रम का संचालन राजेन्द्र विश्वकर्मा ने किया।