×

HP Layoffs: दिग्गज लैपटॉप कंपनी HP करेगी छंटनी, 6 हजार कर्मचारियों की जाएगी नौकरी

HP Layoffs: लैपटॉप और इलेक्ट्रॉनिक्स मैन्युफैक्चरर हैवलेट पैकर्ड यानी HP इंक लगभग 6 हजार जॉब्स कट कर सकती है।

Krishna Chaudhary
Updated on: 23 Nov 2022 8:54 AM GMT
HP will lay off
X

HP करेगी छंटनी (photo: social media )

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

HP Layoffs: जिन कंपनियों को दुनिया में कभी नौकरी के लिहाज से सबसे सुरक्षित माना जा रहा था, वहां आज कल थोक के भाव में नौकरियां खत्म की जा रही हैं। दिग्गज सोशल मीडिया कंपनी ट्विटर से शुरू हुआ ये सिलसिला कहां तक चलेगा, किसी को अंदाजा है। अब तक ट्विटर, मेटा, अमेजन और यहां तक की गूगल हजारों की संख्या में अपने कर्मचारियों को पिंक स्लिप थमा चुके हैं या ऐसा इरादा रखते हैं। सभी के कारण लगभग एक ही है।

इस सूची में एक और टेक कंपनी का नाम जुड़ गया है। लैपटॉप और इलेक्ट्रॉनिक्स मैन्युफैक्चरर हैवलेट पैकर्ड यानी HP इंक लगभग 6 हजार जॉब्स कट कर सकती है। ये उसके टोटल वर्कर्फोस का करीब 12 फीसदी है। कंपनी अगले तीन सालों में यानी 2025 तक छंटनी के इस प्लान को अंजाम देगी। कंपनी ने इसकी घोषणा वित्तीय वर्ष 2022 की फुल ईयर रिपोर्ट में की। इस जानी-मानी लैपटॉप कंपनी में करीब 50 हजार कर्मचारी काम करते हैं। कंपनी के इस फैसले को लेकर सोशल मीडिया पर काफी रिएक्शनंस देखने को मिल रहे हैं।

छंटनी की क्या है वजह

दुनिया की अन्य शीर्ष कंपनियों की तरह एचपी भी मंदी का सामना कर रही है। कंपनी के आय में गिरावट आई है। जिसके कारण वह जॉब कट कर खर्चे को नियंत्रित करना चाहती है। दरअसल, कोरोना महामारी के दौरान वर्कफ्रॉम होम कल्चर को बढ़ावा मिलने के कारण पीसी और लैपटॉप सेंगमेंट में जोरदार उछाल देखने को मिला था। हालांकि, अब वह दौर बीत चुका है, जिसके कारण बिक्री में गिरावट आ गई है, जिस कारण एचपी ने कर्मचारियों की संख्या में कटौती करने का निर्णय लिया है। इसके अलावा वैश्विक बाजार में महंगाई और मंदी की चिंता भी जॉब कट के कारणों में से एक हो सकता है। कंपनी ने अपने वार्षिक रिपोर्ट में बताया है कि उसकी कमाई साल दर साल गिर रही है।

जॉब कट करने वाली बड़ी कंपनियां

दिग्गज टेक कंपनियों में छंटनी के सिलसिले की शुरूआत करने का क्रेडिट दुनिया के सबसे रईस उद्योगपति और टेस्ला फाउंडर एलन मस्क को जाता है। मस्क के बॉस बनते ही ट्विटर के कर्मचारियों की नौकरी जानी शुरू हो गई। उन्होंने ट्विटर सीईओ का पद संभालते ही 50 प्रतिशत एम्प्लॉइज को फायर कर दिया। कुछ दिनों बाद फेसबुक, वाट्सऐप जैसी लोकप्रिय सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म की पैरेंट कंपनी मेटा ने भी अपने इतिहास की सबसे बड़ी छंटनी करते हुए 11 हजार लोगों को जॉब से निकाल दिया है।

इसके बाद अमेरिकी मीडिया रिपोर्ट्स में खबर चली कि दिग्गज ई-कॉमर्स कंपनी अमेजन भी अपने 10 हजार कर्मचारियों को पिंक स्लिप थमा चुकी है। इस सूची में लेटेस्ट एंट्री मारी थी गूगल की पैरेंट कंपनी एल्फाबेट ने। रिपोर्ट्स के मुताबिक, एल्फाबेट भी खराब मार्केट कंडीशन को देखते हुए बड़ी संख्या में छंटनी करने का मन बना चुकी है। कंपनी 10 हजार एम्प्लॉइज को नौकरी से निकाल सकती है। मैनेजरों को ऐसे कर्मचारियों की सूची बनाने के लिए कह दिया गया है।

Monika

Monika

Next Story