×

Samsung Prices Increase: कंप्यूटर चिप में महंगाई की आग, 20 फीसदी तक दाम बढ़ाएगा सैमसंग,

Samsung Prices Increase: दुनिया की सबसे बड़ी चिप निर्माता कंपनी में शुमार सैमसंग इलेक्ट्रॉनिक्स कंपनी अपने ग्राहकों के साथ इस साल सेमीकंडक्टर्स बनाने के लिए 20 फीसदी अधिक चार्ज करने के बारे में बात कर रही है।

Neel Mani Lal
Published on 14 May 2022 2:33 AM GMT
semiconductors
X

सेमीकंडक्टर (फोटो-सोशल मीडिया)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Samsung Prices Increase: सेमी कंडक्टर(semiconductors) या कंप्यूटर चिप (computer chips) की ग्लोबल कमी के बीच सैमसंग अपने चिप के दाम 20 फीसदी बढ़ाने का इरादा रखता है। दुनिया की सबसे बड़ी चिप निर्माता कंपनी में शुमार सैमसंग इलेक्ट्रॉनिक्स कंपनी (Samsung Electronics Company) अपने ग्राहकों के साथ इस साल सेमीकंडक्टर्स (semiconductors) बनाने के लिए 20 फीसदी अधिक चार्ज करने के बारे में बात कर रही है। कीमत में वृद्धि की वजह सामग्री और बढ़ती लागत को कवर करने के लिए है।

ग्राहकों के साथ अनुबंध-आधारित चिप(computer chips) की कीमतों में लगभग 15 से 20 फीसदी तक बढ़ोतरी की संभावना है। सूत्रों का कहना है कि लीगेसी नोड्स पर उत्पादित चिप्स को बड़ी कीमतों में बढ़ोतरी का सामना करना पड़ेगा।सैमसंग ने कुछ ग्राहकों के साथ बातचीत समाप्त कर ली है, जबकि यह अभी भी दूसरों के साथ बातचीत कर रही है।

हर चीज पर लागत बढ़ रही

इस साल की दूसरी छमाही से नया मूल्य निर्धारण लागू किया जाएगा। सैमसंग का निर्णय पिछले साल की अपेक्षाकृत स्थिर मूल्य निर्धारण नीति से एक बदलाव है, जब चिप की ग्लोबल कमी के मद्देनजर कीमतें बढ़ा दी गईं थीं। लेकिन अब कंपनी कई अन्य जोखिमों का सामना कर रही है जैसे यूक्रेन में युद्ध, चीन में लॉकडाउन, बढ़ती ब्याज दरें और मुद्रास्फीति।

सैमसंग का यह कदम स्मार्टफोन, कारों और गेम कंसोल के बढ़े दामों के रूप में सामने आएगा। सैमसंग और ताइवान सेमीकंडक्टर मैन्युफैक्चरिंग कंपनी (टीएसएमसी)के पास आउटसोर्स किए गए चिप्स की वैश्विक क्षमता का दो-तिहाई से अधिक हिस्सा है।

चिप निर्माताओं के लिए विनिर्माण लागत अब लगभग 20 से 30 फीसदी की दर से बढ़ रही है। टीएसएमसी और यूनाइटेड माइक्रोइलेक्ट्रॉनिक कॉर्प (यूएमसी) सहित चिप निर्माता ग्राहकों को चेतावनी दे रहे हैं कि वे कई महीने पहले कीमतों में बढ़ोतरी के बाद अब फिर से कीमतों को बढ़ाने की योजना बना रहे हैं।

उद्योग के नेता टीएसएमसी ने ग्राहकों से कहा है कि पिछले साल 20 फीसदी मूल्य वृद्धि के बाद, 2023 से कीमतों में लगभग 5 से 8 फीसदी वृद्धि करने की योजना है। यूएमसी दूसरी तिमाही में 4 फीसदी मूल्य वृद्धि की योजना बना रही है। एएसएमएल होल्डिंग एनवी - सैमसंग और टीएसएमसी के एक प्रमुख आपूर्तिकर्ता - ने पिछले महीने उच्च सामग्री लागत और परिवहन लागत के अलावा श्रम लागत पर बढ़ते दबाव की चेतावनी दी थी।

विश्लेषकों ने कहा है कि सेमीकंडक्टर निर्माता मुनाफे में वृद्धि की कोशिश कर रहे हैं वे आंशिक रूप से हाई-एंड चिप्स के लिए अधिक डिमांड कर रहे हैं। सैमसंग के लिए यह एक अपरिहार्य कदम है क्योंकि बिजली और उपकरण से लेकर सामग्री और माल ढुलाई तक हर चीज पर लागत बढ़ रही है।

सैमसंग दुनिया का सबसे बड़ा मेमोरी चिप निर्माता है, लेकिन यह ऑर्डर-आधारित चिप निर्माण में टीएसएमसी को पकड़ रहा है। भले ही उपभोक्ता पीसी और स्मार्टफोन की मांग कम हो रही है, लेकिन टेक कंपनियों ने कहा कि कमाई कॉल के लिए उन्हें अधिक क्षमता वाले नए सर्वरों और अधिक चिप्स की आवश्यकता के साथ 5जी से संबंधित मजबूत मांग की उम्मीद है। उद्योग को उम्मीद है कि कुल चिप की मांग आपूर्ति से अधिक होगी, जो अगले पांच वर्षों तक तंग रहेगी।

दक्षिण कोरिया की सबसे बड़ी कंपनी सैमसंग ने 2021 में अपने चिप डिवीजन का विस्तार करने के लिए 36 बिलियन डॉलर से अधिक खर्च किए और प्रतिद्वंद्वियों का अधिग्रहण भी किया। कंपनी ने एक्सट्रीम अल्ट्रा वायलेट लिथोग्राफी मशीनों जैसे अत्याधुनिक उपकरणों की खरीद की थी।

कंपनी ने पिछले साल इंटेल को राजस्व के मामले में दुनिया की सबसे बड़ी चिप निर्माता बनने के लिए पीछे छोड़ दिया था। सैमसंग ने घोषणा की कि वह टीएसएमसी से आगे निकलना चाहती है और क्वालकॉम और एनवीडिया जैसे वैश्विक कॉरपोरेट्स की टक्कर में चिप्स बनाने के 400 बिलियन डॉलर के व्यवसाय में सबसे बड़ी खिलाड़ी बनना चाहती है।


Vidushi Mishra

Vidushi Mishra

Next Story