Top

यूपी विधानसभा चुनाव: क्या कहते हैं सितारे, किसकी बनेगी सरकार कौन होगा बेज़ार

aman

amanBy aman

Published on 8 March 2017 1:19 PM GMT

यूपी विधानसभा चुनाव: क्या कहते हैं सितारे, किसकी बनेगी सरकार कौन होगा बेज़ार
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

योगेश मिश्र

लखनऊ: जनता ने भले ही उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला ईवीएम मशीनों में बंद कर दिया हो, पर सरकार के गठन को लेकर ज्योतिर्विद ईवीएम से नतीजे निकलने का इंतजार करने को तैयार नहीं हैं। सरकार को लेकर ज्योतिषियों के अज़ब-गजब भविष्यवाणियां हैं।

हालांकि ज्यादातर ज्योतिषियों की भविष्यवाणी भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की सरकार का ऐलान कर रही है। इनमें भी एकाध को छोड़कर बीजेपी को सबसे बड़ी पार्टी से अधिक नहीं बता रहा है। स्पष्ट बहुमत की बात नहीं कर रहा है। पर दिलचस्प है कि किसी की भविष्यवाणी में राष्ट्रपति शासन लगाने का कोई अनुमान नहीं है। सिर्फ दो ऐसे ज्योतिषी हैं जो मायावती के मुख्यमंत्री बनने की बात कह रहे हैं। हालांकि, अखिलेश यादव का राजनीति में लंबे समय तक पराभव काल रहेगा, यह कई ज्योतिषी कह रहे हैं।

बीजेपी को बता रहे अव्वल

ज्योतिषी शंकरचरण त्रिपाठी मानते हैं कि बीजेपी का संयोग गुरु और चंद्रमा का सहयोग है। ऐसे में वह सबसे बड़ी पार्टी होगी, उसे अकेले दम 182 सीटें मिलेंगी। बीजेपी के गठबंधन के सहयोगियों की तादाद इसके अलावा होगी। कांग्रेस और समाजवादी पार्टी (सपा) गठबंधन का संयोग सितारों के हिसाब से मंगल और बुध का सहयोग है। ऐसे में वह अपने 2012 के 252 के आंकडे से 105 सीट कम पाएगी। वह कहते हैं कि बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के साथ बृहस्पति और राहु का संयोग है, इसलिए मायावती लोकप्रियता में बहुत आगे रहेंगी। लेकिन इसकी सीटें 100 के इर्द-गिर्द के आसपास सही है।

आगे की स्लाइड्स में पढ़ें अन्य ज्योतिषियों का क्या है आकलन ...

111 सीटों पर सिमटेगी सपा

बनारस के बंगाली दादा की मानें तो बीजेपी को 180-217 सीटें मिल सकती हैं। उनके अनुसार बसपा दूसरे नंबर की पार्टी, जिसे 130-140 सीटें में मिलेंगी। सपा 111 सीटों के आसपास सिमट कर रह जाएगी। कांग्रेस अपना पुराना आंकड़ा नहीं दोहरा पाएगी।

हर ज्योतिषी का अपना आकलन

वहीं, कुशीनगर के ज्योतिषाचार्य शिवहरि मिश्र कहते हैं कि बीजेपी का वोट बैंक बढ़ेगा पर कोई सहयोग देगा तभी सरकार बन पाएगी। इनके मुताबिक अखिलेश यादव दूसरे और मायावती तीसरे पायदान पर होंगी। जबकि कानपुर के ज्योतिषाचार्य सुसैन निगम सबसे अलग हटकर बसपा की सरकार बनते देख रहे हैं। उनके हिसाब से बसपा को 150-210 सीटें हासिल होंगी। बीजेपी दूसरे पायदान पर रहेगी, उसे 120 सीटें मिलेंगी। अखिलेश यादव और कांग्रेस गठबंधन 85-95 सीटों के आस-पास रहेगा।

क्या कहते हैं ज्योतिषाचार्य अश्विनी त्रिपाठी?

हाल में ही ज्योतिष शिरोमणि से नवाजे गए लखनऊ के ज्योतिषाचार्य अश्विनी त्रिपाठी कहते हैं कि बीजेपी सबसे बड़ी पार्टी होगी और सरकार बनाएगी। दूसरे पायदान पर बसपा होगी। सपा तीसरे स्थान पर रहेगी। उनके मुताबिक सपा और बसपा में ज्यादा अंतर नहीं है। वह बताते हैं कि हमारी यह भविष्यवाणी उत्तर प्रदेश की जन्म कुंडली और गोचर के आधार पर है।

जारी ...

बीजेपी स्पष्ट बहुमत से आगे निकलेगी

दिल्ली के ज्योतिषी विजय मिश्र बीजेपी को लेकर बहुत आश्वस्त हैं। उनके मुताबिक बीजेपी स्पष्ट बहुमत के आंकड़े से बहुत आगे निकल जाएगी। उन्हें हाल-फिलहाल के भविष्य में बसपा सुप्रीमो मायावती और सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव का कोई राजनैतिक भविष्य नहीं दिख रहा है। बसपा और सपा की सीटो में इतना कम अंतर होगा, कि दूसरे और तीसरे पायदान की बात करना बेमानी है।

जिन्हें अगड़ों का साथ, वही बनाएंगे सरकार

गोरखपुर के ज्योतिषी देवेंद्र भट्ट के मुताबिक उत्तर प्रदेश में जिस पार्टी को अगडों का सबसे ज्यादा वोट मिलेगा उसकी ही सरकार बनेगी। उनके मुताबिक ‘ग्रह नक्षत्रों के हिसाब से जो पार्टी सवर्ण और धर्म की राजनीति करती है वह पहले नंबर पर रहेगी। इसका कारण है कि शनि गुरु के घर यानी धनु राशि में 27 जनवरी के आस-पास प्रवेश कर रहा है ऐसे में 18 फरवरी यानी पहले दो चरणों में उसका प्रदर्शन उतना अनुकूल नहीं होगा जितना कि 18 फरवरी के बाद के सभी चरणों में ऐसे में उसे पूर्ण बहुमत तो नहीं मिलेगा पर सरकार उसी की बनेगी।’

बसपा 100 सीटों पर सिमटेगी

बसपा और सपा की संभावनाओं पर भट्ट कहते हैं कि ‘शनि के प्रभाव की वजह से बसपा उम्मीद से बेहतर प्रदर्शन करेगी, पर सरकार बनाने से काफी दूर रहेगी। उसे करीब 100 के आसपास सीटें मिल सकती है। वहीं सपा का प्रदर्शन सितारों के अनुकूल न होने के बावजूद 120-125 सीट जीतने तक होगा। ’

aman

aman

अमन कुमार, सात सालों से पत्रकारिता कर रहे हैं। New Delhi Ymca में जर्नलिज्म की पढ़ाई के दौरान ही ये 'कृषि जागरण' पत्रिका से जुड़े। इस दौरान इनके कई लेख राष्ट्रीय, अंतरराष्ट्रीय और कृषि से जुड़े मुद्दों पर छप चुके हैं। बाद में ये आकाशवाणी दिल्ली से जुड़े। इस दौरान ये फीचर यूनिट का हिस्सा बने और कई रेडियो फीचर पर टीम वर्क किया। फिर इन्होंने नई पारी की शुरुआत 'इंडिया न्यूज़' ग्रुप से की। यहां इन्होंने दैनिक समाचार पत्र 'आज समाज' के लिए हरियाणा, दिल्ली और जनरल डेस्क पर काम किया। इस दौरान इनके कई व्यंग्यात्मक लेख संपादकीय पन्ने पर छपते रहे। करीब दो सालों से वेब पोर्टल से जुड़े हैं।

Next Story