Trending

शिक्षक जो अपने छात्रों के जीवन में एक महत्वपूर्ण परिवर्तन लाते हैं- वह छात्रों को जीवन में कभी-कभी आने वाली बाधाओं के खिलाफ-जश्न मनाने के लायक बनाते हैं। वैसे देश में शिक्षक तो लाखों की संख्या में हैं, लेकिन इन्हीं में कुछ ऐसे विरले भी हैं, जो अपनी अनोखी शिक्षण शैली के कारण प्रसिद्ध हो जाते हैं।

कोरोना वायरस से लड़ने के लिए आते हैं टी सेल्स। जैसे ही COVID-19  से लड़ने के लिए टी सेल्स सक्रिय होते हैं, ये साइटोकाइन रिलीज करते हैं।

गूगल ने कोरोना वायरस से लड़ रहे डॉक्टर्स के लिए ख़ास Doodle बना कर शुक्रिया किया। बता दें कि कोरोना वायरस को लेकर गूगल ने दूसरी बार डूडल बनाया है।

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ट्वीट कर गलती से ‘ईस्टर’ के बजाए ‘गुड फ्राइडे’ की शुभकामना दे डाली। जिसके चलते सोशल मीडिया पर वह लोगों के निशाने पर आ गए।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की देशवासियों से की गयी अपील पर समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने ट्वीट के जरिए तंज कसा। दरअसल, उन्होंने रविवार को घरों की बत्तियां बंद कर दीये जलाने की पीएम मोदी की अपील का जवाब दिया है।

कोरोना वायरस की महामारी इसलिए भी दुनिया के लिए चुनौतीपूर्ण बनी हुई है, क्योंकि इस बीमारी के लक्षण आसानी से समझ नहीं आते। लोगों को इसके लक्षण इसलिए भी समझ नहीं आते, क्योंकि इसके Symptoms आम सर्दी-जुकाम जैसे ही हैं।

निजामुद्दीन की मरकज में हिस्सा लेने वाले 8 लोगों की कोरोना वायरस से मौत हो गई है। इससे देश के ऐसे राज्यों में हड़कंप मच गया है, जहां से लोग इसमें शामिल हुए थे।

रोना के सबसे ज्यादा मामले भारत के महाराष्ट्र से सामने आ रहे है, जिसे रोकने के लिए उद्धव सरकार युद्ध स्तर की तैयारियों में लगी हुई है। इसी कड़ी में अब राज्य में कोरोना मरीजों कोई पहचान के लिए GIS मैपिंग कराने का फैसला लिया गया है।

भले ही पलायन करने वाले लोग पैदल या झुंड के झुंड बसों में सवार होकर शहरों से अपने गांव की ओर जा रहे हैं, लेकिन उस सफर में उन्हें कितनी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है यह जानकर आप भी हैरान रह जाएंगे।

आज जहां देखिये, बस कोरोना है। टीवी, व्हाट्सप, फेसबुक, अखबार, टिकटॉक, शेयरचैट जहां भी देखो-सुनो-पढ़ो  सिर्फ कोरोना। सच्चाई है कि कोरोना वायरस के फेर में कुछ नए शब्द हर एक की आम भाषा का हिस्सा बन गए हैं।