Top

बच गई कई बच्चों की जान, मिड डे मील के राशन में मिला संदिग्ध पाउडर

By

Published on 22 Aug 2017 5:05 AM GMT

बच गई कई बच्चों की जान, मिड डे मील के राशन में मिला संदिग्ध पाउडर
X
stir, ,Shahjahanpur,doubtful white powder, Mid Day Meals, primary school, disturbance, the school chef , Principal, The Headmaster,
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

शाहजहांपुर: यूपी के शाहजहांपुर में उस समय हड़कंप मच गया, जब प्राथमिक स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों के लिए बनने वाले मिड डे मील के राशन में संदिग्ध सफेद पाउडर पड़ा मिला। जिसके बाद स्कूल के रसोइये से लेकर टीचर और प्रधानाध्यापक के बीच खलबली पड़ गई। प्रधानाध्यापक ने इसकी सूचना सबसे पहले बीएसए और बीईओ को दी। जब मौके पर पहुंचे बीएसए ने जांच पड़ताल की, तो दूसरी बोरी मे भी सफेद पाउडर मिला था। जिसके बाद पूरे मामले की जानकारी डीएम को दी। डीएम के आदेश पर प्रधानाध्यापक ने अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर चावल का सैंपल लेकर लैब भेज दिया है।

क्या है पूरा मामला

ददरौल ब्लॉक के गांव किशुरयाई के प्राथमिक स्कूल में मिड-डे मील के चावल में संदिग्ध सफेद पाउंडर मिलने से खलबली मच गई। बीते सोमवार सुबह को रसोइया बच्चों के लिए मिड-डे मील बनाने के लिए चावल निकालने गई। उसने चावल की बोरी खोली। बोरी में सफेद पाउडर चावल में मिले होने का संदेह हुआ। दूसरे बोरे पर नजर डाली, उसमें भी पाउडर डाला गया था। मामला संदिग्ध लगने पर रसोइया ने प्रधानाध्यापक रामकुमार को सूचना दी।

चावल में संदिग्ध सफेद पाउडर मिलाने की सूचना बीएसए राकेश कुमार व बीईओ सुरेश पाल को दी। इस पर अफसरों में खलबली मच गई। इस घटना के बाद 100 डायल की टीम ने भी मौके पर पहुंचकर जांच की चावल का सैंपल लेकर लैब भिजवाया गया। इस मामले में अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है।

स्कूल में चल रहा है रसोइयों का विवाद

प्राथमिक विद्यालय किशुरयाई में रसोइयों का विवाद चल रहा है। कुछ दिन पहले दो रसोइयों को हटा दिया गया था। इसके बाद दोनों स्कूल से अदावत मानने लगी थी। अफसर मान रहे हैं कि रसोइयों ने ही शरारात की है।

क्या कहना है बीएसए का

बीएसए राकेश कुमार ने बताया कि सुबह में एमडीएम कक्ष का ताला लगा मिला था। इस मामले को रसोइया विवाद से जोड़कर देखा जा रहा है। डीएम को इस मामले से अवगत करा दिया है। पुलिस भी पूरे मामले की पड़ताल कर रही है। जांच के लिए डीएम को पत्र भेजा बताया जाता है कि मिड-डे मील की बोरी में मिला पाउडर जहरीला भी हो सकता है, इसलिए बेसिक शिक्षा विभाग की ओर से एक पत्र डीएम को भी भेजा गया है, ताकि खाद्य विभाग की टीम उस पाउडर की जांच करा सके।

Next Story