आचार संहिता: चेतावनी के बावजूद नहीं हटाया बोर्ड, सपा की राष्ट्रीय सचिव पर केस दर्ज

बोर्डों को हटाने के लिए प्रशासन ने नोटिस जारी कर दी। लेकिन सपा की राष्ट्रीय सचिव शाइस्ता परवीन ने अपना बोर्ड नहीं हटाया। इस पर पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया और मामले में चुनाव आयोग को रिपोर्ट भेज दी।

Published by zafar Published: January 15, 2017 | 6:15 pm
Modified: January 15, 2017 | 7:41 pm
आचार संहिता: चेतावनी के बावजूद नहीं हटाया बोर्ड, सपा की राष्ट्रीय सचिव पर केस दर्ज

बहराइच: समाजवादी पार्टी की राष्ट्रीय सचिव एवं नानपारा की महिला नेत्री शाइस्ता परवीन के खिलाफ रुपईडीहा थाने में आचार संहिता के उल्लंघन का मामला दर्ज हुआ है। उन पर चेतावनी के बावजूद अपना एक बोर्ड न हटवाने का आरोप है। उनके प्रचार का यह बोर्ड कस्टम कार्यालय के सामने बिजली के एक खंभे पर लगा हुआ था। बता दें कि बहराइच में फेज-5 के अंतर्गत 27 फरवरी को वोटिंग होगी।

चेतावनी नजरअंदाज
-बहराइच में विधानसभा के पांचवें चरण में चुनाव होना है।
-चुनाव की घोषणा और आचार संहिता लगने के बाद पूरे जिले में अभियान चलाकर बैनर, पोस्टर व बोर्ड हटवा दिए गए।
-कुछ स्थायी बोर्डों को हटाने के लिए संबंधित नेताओं को प्रशासन ने नोटिस जारी कर दी।
-लेकिन नानपारा विधानसभा क्षेत्र में सपा की राष्ट्रीय सचिव शाइस्ता परवीन ने नेपालगंज-नानपारा अंतरराष्ट्रीय मार्ग से अपना बोर्ड नहीं हटाया।

पुलिस ने किया केस दर्ज
-कस्टम कार्यालय के सामने लगे इस बोर्ड से आचार संहिता का उल्लंघन होता है।
-रुपईडीहा थानाध्यक्ष राजेश कुमार सिंह के अनुसार कई बार चेतावनी दी गई, लेकिन सपा नेत्री ने नोटिस पर ध्यान नहीं दिया।
-शनिवार दोपहर सीओ अजय भदौरिया के रुपईडीहा पहुंचने पर थानाध्यक्ष ने सीओ को पूरे मामले से अवगत कराया।

-सीओ के निर्देश पर पुलिस ने तत्काल बोर्ड को हटवा कर सपा नेत्री के खिलाफ धारा 171 और 137 ए लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम के तहत आचार संहिता उल्लंघन का केस दर्ज करा दिया।
-थानाध्यक्ष ने बताया कि इस मामले में चुनाव आयोग को भी रिपोर्ट भेज दी गई है।