Top

MLA,MP और मंत्री रह चुके हैं यह BJP विधायक, आज भी काटते हैं चारा, पिलाते हैं जानवरों को पानी

By

Published on 17 March 2017 5:00 AM GMT

MLA,MP और मंत्री रह चुके हैं यह BJP विधायक, आज भी काटते हैं चारा, पिलाते हैं जानवरों को पानी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

bjp

बाराबंकी: आज कल जहां गांव में ग्राम प्रधानी का चुनाव जीतने के बाद ही लोगों के रुतबे बदल जाते हैं। लोग लक्जरी गाड़ियों, शानदार मकान और असलहों को अपना स्टेटस सिम्बल मानने लगते हैं। तो वहीं कुछ ऐसे भी नेता हैं, जो खुद में ईमानदारी की जीती-जागती मिसाल हैं। ऐसे ही हैं यूपी के बाराबंकी जिले के भाजपा के नवनिर्वाचित एक एमएलए बैजनाथ रावत, जो पूर्व में विधायक सांसद और सूबे के ऊर्जा राज्यमंत्री जैसे ऊंचे ओहदों पर पदासीन रह चुके हैं। लेकिन इनकी सादगी और ईमानदारी का पूरा जिला कायल है।

मशहूर हैं इनकी सादगी के किस्से

उत्तर प्रदेश के बाराबंकी जिले में स्थित है हैदरगढ़ विधानसभा। ये वही विधानसभा है, जिस विधानसभा से यूपी के मुख्यमंत्री राजनाथ सिंह निर्वाचित होकर लखनऊ विधानसभा पहुंचे थे। उसके 14 वर्षों बाद भाजपा के लिए वनवास काट रहे हैदरगढ़ विधानसभा क्षेत्र ने इस बार एक ईमानदार नेता बैजनाथ रावत को भारी बहुमत से जिताकर हैदरगढ़ का विधायक बनाया है। बैजनाथ रावत हैदरगढ़ विधानसभा क्षेत्र के भूलभुलैया गांव के ही मूल निवासी भी हैं, जिन्होंने सपा से दो बार के विधायक रहे राममगन रावत को भारी मतों से हराकर जीत हासिल की है। बीजेपी के इस विधायक की सादगी और ईमानदारी के किस्से जिले भर में मशहूर हैं।

रहते हैं साधारण मकान में

चाहे कोई भी उम्र हो, कोई भी जाति हो, कोई भी वर्ग हो बैजनाथ रावत के लोगों से मिलने का अंदाज वही है, जो उनके 18 साल पहले विधायक और प्रदेश के ऊर्जा मंत्री होने पर था। लोगों ने बैजनाथ रावत को सफलता की सीढ़ियां तो चढ़ते देखा है। लेकिन बैजनाथ रावत के कदम हमेशा जमीन पर ही थे। आज भी बैजनाथ रावत अपने पक्के लेकिन प्लास्टर और फर्श के बगैर बदसूरत से लगने वाले मकान में अपने परिवार सहित रहते हैं।

आगे की स्लाइड में देखिए कैसे काम करते हैं बीजेपी विधायक

खुद अपने घर के बाहर दरवाजे पर एक आम आदमी की तरह झाड़ू लगाते हैं, अपने जानवरों के लिए मशीन में चारा काटकर अपने हाथों से खिलाते हैं और यही नहीं वो अपने खेतों में फसल बोने से लेकर फसल काटने तक का काम एक आम किसान की तरह खुद ही करते हैं। साथ ही सुबह अपने दरवाजे पर फ़रियाद और समस्या लेकर आने वाले लोगों की यथा संभव मदद भी करते हैं।

यह है बैजनाथ रावत का कहना

बैजनाथ रावत का कहना है कि ये सब काम ही हमारी जिंदगी है ईमानदारी का एक अपना ही मजा है। कभी ऐश-ओ-आराम के बारे में नहीं सोचा। हम सभी की इज्जत करते हैं और सारे लोग हमारी इज्जत करते हैं। हमें सम्मान देते हैं और उन्होंने ही हमें 18 साल के बाद फिर हैदरगढ़ से जिताकर भेजा है। हमपर भरोसा जताया है। उनका भरोसा हम कभी टूटने नहीं देंगे। क्षेत्र के विकास के लिए जो भी बन पड़ेगा, उसे हर हाल में पूरा करेंगे।

बिजली, पानी, सड़क, पुल और कानून व्यवस्था को जैसी मूलभूत आवश्यकताओं को दुरुस्त करना भाजपा विधायक बैजनाथ रावत की प्राथमिकता है।

Next Story