×

माया बोलीं-नियमानुसार खाते में जमा हुआ 104 करोड़, कहा- दलित की बेटी से डरते हैं मोदी

Updated on: 27 Dec 2016 6:33 AM GMT
माया बोलीं-नियमानुसार खाते में जमा हुआ 104 करोड़, कहा- दलित की बेटी से डरते हैं मोदी
X
BSP सुप्रीमो मायावती बोलीं- सत्ता हथियाने के लिए लोकतंत्र की हत्या पर उतारू है BJP
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

माया बोलीं-नियमानुसार खाते में जमा हुआ 104 करोड़, कहा- दलित की बेटी से डरते हैं मोदी

लखनऊ: बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) सुप्रीमो मायावती ने खाते में 104 करोड़ जमा हाेने के आरोपों पर कहा कि उन्‍होंने आयकर नियमों के तहत बैंक में पैसे जमा कराए हैंं। माया ने कहा कि नोटबंदी केे बाद हारने की कंडीशन में आ चुकी बीजेपी ने झूठे आरोप लगाए हैं । बीजेपी बीएसपी की छवि खराब करने की कोशिश कर रही है। मेरे बयानों से बीजेपी की नींद उड़ी हुई है। माया ने कहा कि बीजेपी के इशारे पर यह खबर मीडिया में उडाली गई है।

माया ने कहा कि सोमवार को बीजेपी द्वारा कुछ मैनेज किए गए चैनलों और अखबारों में पैसे जमा करवाने की खबर चलवाई गई । माया ने कहा कि बीजेपी मशीनरी का दुरुपयोग कर रही है। मायावती ने कहा कि मोदीजी अगर नोटबंदी की तरह एक दो फैसले ले लेते हैं तो हमें और आसानी होगी। यूपी के 75 जिलों में हमें जाना भी नहीं पड़ेगा। माया ने कहा कि मेरी आज की पीसी के बाद फिर बीजेपी की हालत खराब हो जाएगी।

सदस्‍यों के चंदे का पैसा बैंक में जमा कराया

माया ने कहा कि 31 अगस्‍त से मैं यूपी में लगातार रह रही हूं। मैंने जब बैंक में पैसा जमा करवाया था तब नोटबंदी नहीं हुई थी। नवंबर में नोटबंदी का फैसला आया है। जो पैसा बैंक में जमा हुआ है वो हमने पूरे नियमों के साथ जमा करवाया है। मैंने ये पैसा सदस्‍यों से जुटाया है।

क्या था पूरा मामला

दिल्ली के करोल बाग में ईडी ने यूनियन बैंक ऑफ इंडिया में सोमवार (27 दिसंबर) की सुबह छापेमारी की थी। यूनियन बैंक की शाखा में ईडी को दो ऐसे बैंक खाते मिले थे जिसमें करोड़ों रुपए जमा हुए थे। उसमें एक खाता मायावती के भाई आनंद के नाम था, जिसमें ईडी को एक करोड़ 43 लाख रुपए मिलें साथ ही दूसरा खाता बहुजन समाज पार्टी के नाम पर था जिसमें ईडी को लगभग 104 करोड़ रुपये मिले। इन दोनों खातों में रकम 8 नवंबर यानी नोटबंदी के बाद जमा की गई और ये पैसे टुकड़ों में जमा किए गए।

आगे की स्‍लाइड में पढ़ें भाई पर लगे आरोपों पर क्‍या बोलीं मायावती...

बीजेपी की दलित विरोधी मानसिकता

माया ने कहा कि इसी दौरान बीजेपी सहित अन्‍य पार्टियों ने भी पैसा जमा करवाया है, लेकिन उनकी जांच नहीं हो रही और न ही मीडिया में उनको दिखाया जा रहा है। मायावती ने कहा कि यह दलित विरोधी मानसिकता है। ये लोग नहीं चाहते की दलित के हाथ में यूपी की सत्‍ता आए। देश के 90 प्रतिशत गरीबों और दलितों को नोटबंदी के बाद परेशानी हो रही है। माया ने कहा कि केंद्र को उनके लिए कार्य करना चाहिए।

भाई पर लगाए गए आरोप भी बेबुनियाद

माया ने कहा कि मेरे छोटे भाई आनंद कुमार से मिली जानकारी के मुताबिक उन्‍होंने भी आयकर विभाग के नियमों के आधार पर पैसा जमा कराया है। केंद्र के लोगों ने सोची समझी राजनीति के तहत इस मामले को ऐसे प्रदर्शित कर रही है जैसे हमने कालाधन बैंक में जमा किया। बीएसपी इनके इस कृत के लिए निंदा करती है।

आगे की स्‍लाइड में पढ़ें ताज कारीडोर मामले में क्‍या बोली मायावती...

ताज कारीडोर के अराेपों पर बोलीं माया

जब भी विधानसभा मेंं चुनाव होता हैं तो केंंद्र खासकर बीजेपी के लोग हमारी पार्टी पर आरोप लगाते रहते हैंं। तोड़ मरोड़ और बढ़ा चढ़ाकर बयानों को प्रस्‍तुत करते हैं। बीजेपी चुनाव में ताज कारीडोर का मुद्दा उठाती है। माया ने कहा कि इस प्रोजेक्‍ट से बीएसपी का कोई वास्‍ता नहीं। इस प्रकरण की फाइल एक बार भी मेरे पास पेश नहीं हुई और किसी भी प्रकरण में मेरे सिग्‍नेचर नहीं हैं।

माया ने कहा कि इस बार बीएसपी की सरकार बनने वाली है इसलिए ये सभी परेशान हैं। 2017 में पूर्ण बहुमत से सरकार बनेगी। विरोधी कितनी भी कोशिशें कर ले जनता सब समझती है।

Next Story