×

चुनावी सुगबुगाहट के बीच लखनऊ पहुंचे नसीम जैदी, सभी दलों ने रखी अपनी बात

उत्तर प्रदेश में विधान सभा चुनाव की उल्टी गिनती शुरू हो गई है। इसी सिलसिले में मुख्य निर्वाचन आयुक्त नसीम जैदी के नेतृत्व में रविवार को लखनऊ में 8 सदस्यीय दल ने राजनितिक दलों के प्रतिनिधियों से अलग-अलग मुलाकात कर निष्पक्ष चुनाव की रणनीति तैयार की। उत्तर प्रदेश में सत्ताधारी समाजवादी पार्टी के अलावा दूसरे राजनैतिक दलों ने आयोग के समक्ष अपनी शिकायत शिकायत दर्ज कराई है। इस दौरान राजनैतिक दलों ने सपा सरकार के अफसरों को भी निशाने पर लिया।

tiwarishalini
Updated on: 25 Sep 2016 2:47 PM GMT
चुनावी सुगबुगाहट के बीच लखनऊ पहुंचे नसीम जैदी, सभी दलों ने रखी अपनी बात
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में विधान सभा चुनाव की उल्टी गिनती शुरू हो गई है। इसी सिलसिले में मुख्य निर्वाचन आयुक्त नसीम जैदी के नेतृत्व में रविवार को लखनऊ में 8 सदस्यीय दल ने राजनितिक दलों के प्रतिनिधियों से अलग-अलग मुलाकात कर निष्पक्ष चुनाव की रणनीति तैयार की।

उत्तर प्रदेश में सत्ताधारी समाजवादी पार्टी के अलावा दूसरे राजनैतिक दलों ने आयोग के समक्ष अपनी शिकायत दर्ज कराई है। इस दौरान राजनैतिक दलों ने सपा सरकार के अफसरों को भी निशाने पर लिया।

बसपा ने कहा

-बसपा की तरफ से प्रदेश अध्यक्ष राम अचल राजभर के नेतृत्व में तीन सदस्यीय दल ने आयोग के सामने अपना पक्ष रखा।

-तीन सदस्यीय दल में मेवालाल गौतम भी शामिल थे।

-बैठक के दौरान बसपा ने वोटर लिस्ट में गड़बड़ी का आरोप लगाते हुए जाति विशेष के मतदाताओं का नाम फर्जी तरीके से मतदाता सूची में शामिल किए जाने का आरोप लगाया है।

-इसके साथ ही जिलों में लंबे समय से तैनात अफसरों को हटाने की मांग की है।

-बीएसपी नेताओं ने कहा है बिना अफसरों के तबादलों के निष्पक्ष चुनाव कराना संभव नहीं है।

बीजेपी की आयोग के समक्ष मांग

-बीजेपी के तीन सदस्यीय दल में विधायक सतीश महाना, विधायक गोपाल टंडन और प्रभारी चुनाव प्रबंधन श्याम नंदन सिंह शामिल थे।

-बीजेपी के प्रतिनिधियों ने वोटर लिस्ट में सुधार के साथ ही एक परिवार के एक साथ एक ही बूथ पर शामिल किए जाने की मांग की है।

-संवेदनशील और अतिशंवेदनशील बूथों की शिनाख्त में गड़बड़ी रोकने के लिए प्रबंध करने की मांग है।

-बीजेपी ने नुक्कड़ सभाओं की परमिशन प्रक्रिया को आसान बनाए जाने की मांग है।

-प्रभारी चुनाव प्रबंधन श्याम नन्दन सिंह ने बताया कि उन्होंने ने आयोग के सामने अफसरों की शिकायत करते हुए निष्पक्ष चुनाव करने की मांग है।

कांग्रेस और रालोद ने कहा

कांग्रेस की तरफ से राकेश सिंह के नेतृत्व में तीन सदस्यीय दल ने मुलाक़ात कर काफी समय से एक ही जिले में जमे अफसरों को हटाने की मांग की है।

जबकि राष्ट्रीय लोक दल से अनिल दूबे के साथ पहुंचे प्रतिनिधिमंडल ने आयोग से मुलाकात के दौरान वोटर लिस्ट में गड़बड़ी का आरोप लगाया है।

समाजवादी पार्टी ने कहा

-समाजवादी पार्टी की तरफ से तीन सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल में विधान परिषद् सदस्य अंबिका चौधरी, अशोक बाजपाई और नरेश उत्तम ने आयोग के सदस्यों के सामने अपनी बात रखी।

-अंबिका चौधरी ने बताया की आयोग के सामने उन्होंने इस बात का भरोसा दिलाया है कि निष्पक्ष चुनाव के लिए सरकार ने पूरी तैयारी की हुई है।

-चुनाव के दौरान किसी तरह की गडबड़ी नहीं होने दी जाएगी।

-विपक्षियों के आरोपों पर पूछे गए सवाल के जवाब में उन्होंने कहा की विपक्षियों के पास आरोप लगाने के सिवा कुछ नहीं है।

-उन्होंने कहा की बेहतर कानून व्यवस्था सरकार की जिम्मेदारी है जिस पर सरकार काम रही है।

tiwarishalini

tiwarishalini

Excellent communication and writing skills on various topics. Presently working as Sub-editor at newstrack.com. Ability to work in team and as well as individual.

Next Story