×

टिकट कटने से नाराज एटा सदर से सपा विधायक ने कहा- लडूंगा निर्दलीय चुनाव, रामगोपाल पार्टी का गद्दार

Rishi
Updated on: 21 Jan 2017 12:03 PM GMT
टिकट कटने से नाराज एटा सदर से सपा विधायक ने कहा- लडूंगा निर्दलीय चुनाव, रामगोपाल पार्टी का गद्दार
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

एटा: समाजवादी पार्टी में शिवपाल यादव और मुलायम सिंह यादव के ख़ास विधायकों का टिकट कटने से सपा में विद्रोह के हालात हैं। एटा सदर से सपा विधायक आशीष यादव ने अपनी टिकट कट जाने पर एक जनसभा को संबोधित करते हुए निर्दलीय चुनाव लड़ने की घोषणा की है। उन्होंने एक बार फिर रामगोपाल यादव को सपा का गद्दार बताते हुए कहा कि वो खुद अपने बेटे और बहू को सीबीआई जांच बचाने के लिए बीजेपी से मिल गए हैं। रामगोपाल की ये सच्चाई जनता और पार्टी के बड़े नेताओ को मैंने बताई। यही वजह है कि रामगोपाल यादव ने मेरा टिकट कटवाया है।

और क्या बोले विधायक ?

-सपा और कांग्रेस का गठबंधन भी रामगोपाल यादव ने बीजेपी का शिकंजा कसने के बाद तुड़वाया।

-यादव सिंह की डायरी में पेज नंबर 12 में रामगोपाल यादव का नाम है और यह जिक्र है कि कितने टेंडेट इन्होंने दिलवाये और कितने शेयर इनके हैं।

- विधायक आशीष यादव के साथ एटा के सपा महासचिव, जिला उपाध्यक्ष, जिला सचिव,सहित सैकड़ों सपा कार्यकर्ताओं ने इस्तीफ़ा दिया।

- मुलायम सिंह यादव और आजम खान ने मेरी बहुत पैरवी की, लेकिन रामगोपाल यादव के दवाव में मेरी टिकट काटी गई।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story