×

मायावती का PM पर हमला, कहा- मोदी रैलियों में कर रहे गली-कूचे वाली भाषा का प्रयोग

aman

amanBy aman

Published on 5 Feb 2017 2:03 PM GMT

मायावती का PM पर हमला, कहा- मोदी रैलियों में कर रहे गली-कूचे वाली भाषा का प्रयोग
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

लखनऊ: बहुजन समाज पार्टी (बसपा) मुखिया मायावती ने पीएम नरेंद्र मोदी पर चुनाव में निचले स्तर की राजनीति और असभ्य भाषा का इस्तेमाल करने का आरोप लगाया है। बसपा सुप्रीमो बोलीं, कि चुनावी स्वार्थ के लिए उन्होंने राजनीति के स्तर को इतना गिरा दिया है जो किसी भी प्रधानमंत्री को शोभा नहीं देता है।

ये भी पढ़ें ...मायावती ने फिर साधा पीएम मोदी पर निशाना, कहा- जनता बना चुकी है BSP को जिताने का मन

मायावती ने कहा, 'पीएम मोदी द्वारा बीजेपी की रैलियों में जिस प्रकार की सस्ती और असभ्य भाषा का इस्तेमाल किया जा रहा है। वह पीएम पद की गरिमा के खिलाफ है। इस प्रकार की गली-कूचे वाली भाषा का इस्तेमाल उन्होंने दिल्ली, बिहार और पश्चिम बंगाल आदि राज्यों के विधानसभा चुनाव में किया था, जिसे प्रदेश की जनता ने पसंद नहीं किया था। उन चुनावों में बीजेपी को जबर्दस्त हार का सामना करना पड़ा था। संभव है कि यूपी की जनता भी चुनाव में उनका व उनकी पार्टी का वही शर्मनाक हाल करे, जिसकी आशंका की भय से ही मोदी व अमित शाह गलतबयानी कर रहे हैं।'

ये भी पढ़ें ...मायावती बोलीं- अल्पसंख्यकों को समझा जाता है आतंकवादी, पार्टियां कराती हैं सांप्रदायिक दंगे

बीजेपी कर रही तरह-तरह की नाटकबाजी

मायावती बोलीं, नोटबंदी के अपरिपक्व फैसले के कारण देश की 90 प्रतिशत ईमानदार मेहनतकश जनता को जो पीड़ा हुई है। उससे लोगों का ध्यान बांटने के लिए ही बीजेपी तरह-तरह की नाटकबाजी कर रही है। बीजेपी निचले स्तर की घृणित राजनीति पर भी उतर आई है, जो अति-निन्दनीय है।

ये भी पढ़ें ...मायावती बोलीं- प्रदेश में BSP की सरकार बनी तो लैपटॉप-मोबाइल की जगह कैश देंगे

साहेब के अनुयाइयों पर बीजेपी जुल्म ढाती है

मायावती ने कहा कि 'अब पीएम बाबा साहेब डॉ. भीमराव अम्बेडकर के नाम पर भी राजनीति करने पर उतारू हो गई है। इनके नाम पर केवल अपने सांकेतिक कार्यों को गिनाकर वोट की राजनीति करना चाह रहे हैं। जबकि बाबा साहेब के अनुयाइयों पर बीजेपी सरकार में जुल्म-ज्यादती और अन्याय अत्याचार की घटनाओं की बाढ़ सी आ गई लगती है। इन वर्गों के आरक्षण को भी निष्प्रभावी बना दिया गया है। मोदी और आरएसएस के लिये सत्ता जातिवाद, अत्याचार व अन्याय को स्थायी व संस्थागत बनाने का माध्यम है जो देशहित में नहीं है।'

aman

aman

अमन कुमार, सात सालों से पत्रकारिता कर रहे हैं। New Delhi Ymca में जर्नलिज्म की पढ़ाई के दौरान ही ये 'कृषि जागरण' पत्रिका से जुड़े। इस दौरान इनके कई लेख राष्ट्रीय, अंतरराष्ट्रीय और कृषि से जुड़े मुद्दों पर छप चुके हैं। बाद में ये आकाशवाणी दिल्ली से जुड़े। इस दौरान ये फीचर यूनिट का हिस्सा बने और कई रेडियो फीचर पर टीम वर्क किया। फिर इन्होंने नई पारी की शुरुआत 'इंडिया न्यूज़' ग्रुप से की। यहां इन्होंने दैनिक समाचार पत्र 'आज समाज' के लिए हरियाणा, दिल्ली और जनरल डेस्क पर काम किया। इस दौरान इनके कई व्यंग्यात्मक लेख संपादकीय पन्ने पर छपते रहे। करीब दो सालों से वेब पोर्टल से जुड़े हैं।

Next Story