×

PM मोदी के स्वागत के लिए महोबा तैयार, छावनी में तब्दील होगा रैली स्थल

aman
By aman
Updated on: 22 Oct 2016 4:08 PM GMT
PM मोदी के स्वागत के लिए महोबा तैयार, छावनी में तब्दील होगा रैली स्थल
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

महोबा: पीएम नरेंद्र मोदी 24 अक्टूबर को बुंदेलखंड के महोबा में एक विशाल जनसभा को संबोधित करने आ रहे हैं। पीएम मोदी के इस कार्यक्रम को लेकर तैयारियां अंतिम चरण में है। सुरक्षा के मद्देनजर महोबा को हाईअलर्ट घोषित किया गया है। जहां एक तरफ बीजेपी के बड़े नेता रैली स्थल की तैयारियों पर नजर बनाए हुए हैं वहीं प्रशासनिक अमला भी सुरक्षा की दृष्टि ने रैली स्थल का जायजा ले रहा है।

गौरतलब है कि इससे पहले जब नरेंद्र मोदी महोबा आये थे तो उन्होंने किसानों की समस्याओं को दूर करने का वादा किया था। इस रैली में किसानों के लिए सिंचाई से जुडी बड़ी योजना की घोषणा भी हो सकती है। इसके अलावा बुन्देलियों को पीएम मोदी के पिटारे से सौगातों की उम्मीदें हैं।

बीजेपी महोबा से करेगी चुनावी आगाज

बदहाल और सूखे की ख़बरों से सुर्ख़ियों में आए महोबा को सभी राजनैतिक दल मुद्दा बनाने से नहीं चूक रहे। सूखे से पनपी पेयजल संकट के बाद वॉटर ट्रेन आने तक महोबा सुर्ख़ियों में रहा। प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव जहां कई बार महोबा का दौरा कर चुके है वहीं अब बीजेपी भी 2017 चुनाव को देखते हुए बुंदेलखंड से चुनावी आगाज करने जा रही है।

लोकसभा चुनाव के दौरान आए थे मोदी

आपको बताते चलें कि लोकसभा चुनाव के दौरान नरेंद्र मोदी महोबा आए थे। उस दौरान उन्होंने बुन्देली किसानों के दर्द को नजदीक से महसूस किया था। साथ ही किसानों से कई वादे भी किए थे। एक बार फिर 24 अक्टूबर पीएम नरेंद्र मोदी वीर आल्हा उदल की धरती पर एक विशाल जनसभा को संबोधित करने आ रहे हैं।

बीजेपी को संजीवनी की तलाश

2017 यूपी विधानसभा चुनाव के लिहाज से पीएम मोदी की यह रैली बेहद अहम है। पिछले कई वर्षों से बुंदेलखंड खासकर महोबा में जीत के लिए तरस रही बीजेपी को मोदी की इस रैली से संजीवनी मिल सकती है।

3 लाख लोगों के जुटने की उम्मीद

महोबा के पुलिस लाइन के पास बने 8 लाख वर्ग फिट के मैदान में रैली स्थल बनाया गया है। इसमें तीन लाख लोगों के जुटने की उम्मीद जताई जा रही है। पीएम मोदी की रैली को सफल बनाने के लिए बीजेपी नेता दिन-रात लगे हुए हैं।

पीएम करेंगे सिंचाई परियोजना का शिलान्यास

पूर्व सांसद गंगाचरण राजपूत बताते हैं कि बुंदेलखंड में पेयजल की समस्या है। चार साल से दैवीय आपदाओं के कारण लोग यहां से पलायन कर रहे हैं। पीएम यहां सिंचाई परियोजना का शिलान्यास करेंगे। 24 अक्टूबर की रैली में पीएम के पिटारे से बहुत कुछ बुंदेलखंड को मिल सकता है। सिंचाई के लिए करीब 80 हजार करोड़ रुपए की परियोजना है जिससे पानी की समस्या दूर की जाएगी।

पहली बार कोई पीएम आ रहा महोबा

पीएम मोदी की इस रैली से महोबा के लोग खासे उत्साहित हैं। उन्हें उम्मीद है कि शायद उनके लिए कोई बड़ी घोषणा भी रैली में हो सकती है। वो इस बात से रोमांचित हैं कि इतिहास में पहली बार कोई प्रधानमंत्री महोबा आ रहा है। किसान और युवा भी पीएम से बेरोजगार और पलायन रोकने के लिए कोई खास योजना की उम्मीद लगाए हुए हैं।

सुरक्षा व्यवस्था पुख्ता

मोदी की रैली को लेकर सुरक्षा की दृष्टि से जिले के आला अधिकारी खुद कमान संभाले हुए हैं। रैली स्थल का निरीक्षण शनिवार को मंडल कमिश्नर मुरली मनोहर लाल और डीआईजी ज्ञानेश्वर तिवारी ने किया। रैली स्थल में पेयजल, पार्किंग और बिजली की व्यवस्था प्रशासन की ओर उपलब्ध कराई गई है।

छावनी में तब्दील होगा रैली स्थल

डीआईजी बांदा मंडल ज्ञानेश्वर तिवारी ने बताया कि अपर महानिदेशक सीबीसीआईडी के निर्देशन में आठ आईपीएस और आठ अपर पुलिस अधीक्षक रैली की सुरक्षा व्यवस्थाओं का जिम्मा संभालेंगे। पुलिस उपाधीक्षक स्तर के 42 अधिकारी तैनात किए जाएंगे। इंस्पेक्टर रैंक के 74 पुलिस अफसर, 550 उपनिरीक्षक, 800 प्रधान आरक्षी और 1750 पुलिस जवानों को रैली में सुरक्षा के लिए तैनात किया जा रहा है।

इन व्यवस्थाओं के अतिरिक्त स्पेशल कमांडो और सीआरपीएफ़ की दस कंपनी तथा पीएसी की छह कंपनी भी रैली स्थल पर तैनात रहेगी।

aman

aman

Next Story