×

विलय पर ब्रेक, अब मुख्तार की पार्टी QED-सपा में गठबंधन के आसार

By
Updated on: 23 Aug 2016 6:28 PM GMT
विलय पर ब्रेक, अब मुख्तार की पार्टी QED-सपा में गठबंधन के आसार
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

लखनऊः डॉन मुख्तार अंसारी की पार्टी कौमी एकता दल (क्यूईडी) के समाजवादी पार्टी में विलय का मामला फिलहाल ठंडे बस्ते में चला गया है। सूत्रों के मुताबिक सीएम अखिलेश यादव के अड़े रहने से मुलायम समेत सपा के सभी वरिष्ठ नेता क्यूईडी के विलय पर ब्रेक लगा चुके हैं, लेकिन सूत्रों के मुताबिक रास्ता दूसरा तलाशा गया है। ये रास्ता गठबंधन का है। मंगलवार को मुख्तार ने शिवपाल सिंह और अखिलेश से मुलाकात की। इसके बाद इन चर्चाओं ने जोर पकड़ा है कि दोनों दल भविष्य में गठबंधन कर सकते हैं।

लंबी चली मुलाकात

मुख्तार विधायक हैं। वह विधानसभा सत्र में हिस्सा लेने आए हैं। मंगलवार को उन्होंने विधानभवन में शिवपाल से करीब पौने घंटे तक बंद कमरे में बातचीत की। इसके बाद वह सीएम अखिलेश यादव से भी मिले और वहां भी काफी देर बैठे रहे। हालांकि, मुख्तार ने कहा कि वह मऊ में बाढ़ की समस्या को लेकर शिवपाल और सीएम से मिले थे। एक सवाल पर उन्होंने कहा कि क्यूईडी के सपा में विलय के वह भी खिलाफ हैं।

यह भी पढ़ें...अखिलेश बोले- विपक्ष से मिले हैं कुछ अधिकारी, ‘टारगेट’ पर मुख्य सचिव

गठबंधन पर भी हां-ना

मुख्तार ने सवाल के जवाब में ये भी कहा कि दोनों पार्टियों के बीच वह गठबंधन भी नहीं चाहते। हालांकि, उन्होंने ये जरूर कहा कि गठबंधन पर फैसला अफजाल अंसारी और मुलायम सिंह यादव करेंगे। बता दें कि 21 जून को शिवपाल ने क्यूईडी के सपा में विलय का ऐलान किया था। इसके बाद ही मुलायम कुनबे में रार सामने आई थी। रार इतनी बढ़ी कि जमीनों पर कब्जे और सपाइयों के दलाली खाने के मुद्दे पर शिवपाल ने मंत्री पद छोड़ने की धमकी तक दे दी थी। इसके बाद 15 अगस्त को मुलायम ने सबके सामने अखिलेश को फटकारा था और सोमवार को बैठकर दोनों में सुलह भी कराई थी।

Next Story