×

समाजवादी स्मार्टफोन का पंजीकरण कभी भी हो सकता है बंद, BJP ने EC से की शिकायत

aman

amanBy aman

Published on 15 Jan 2017 2:29 PM GMT

समाजवादी स्मार्टफोन का पंजीकरण कभी भी हो सकता है बंद, BJP ने EC से की शिकायत
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

लखनऊ: भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने अखिलेश यादव सरकार की 'समाजवादी स्मार्ट फोन योजना' पर लगातार हो रहे पंजीकरण को लेकर निर्वाचन आयोग से शिकायत की है। बीजेपी ने वेबसाइट से सीएम अखिलेश यादव की फोटो को हटाने की मांग करते हुए फोन रजिस्ट्रेशन को निरस्त कर दोषी अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई कि मांग की है।

पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष जेपीएस राठौर और चुनाव प्रबंधन कुलदीप पति त्रिपाठी ने इस सिलसिले में मुख्य निर्वाचन अधिकारी को पत्र लिखा है। उन्होंने सपा सरकार पर आदर्श आचार संहिता उल्लंघन करने का आरोप लगाया है। पत्र में कहा गया है कि वेबसाइट को तुरंत बंद किया जाए। साथ ही स्मार्ट फोन रजिस्ट्रेशन को निरस्त कर आचार संहिता के उल्लंघन के दोषी अधिकारियों के खिलाफ कार्यवाही की जाए।

वेबसाइट पर लगी है सूचना

इस बाबत http://samajwadisp.in/की वेबसाइट पर सूचना भी लगी हुई है। इसमें कहा गया है कि प्रदेश में चुनाव आचार संहिता प्रभावी होने के कारण इस योजना के पंजीकरण और प्रोसेसिंग की अनुमति के लिए चुनाव आयोग से अनुरोध किया जा रहा है। हालांकि पंजीकरण की अंतिम तिथि 31 जनवरी 2017 है। लेकिन यदि चुनाव आयोग से कोई आदेश प्राप्त होता है तो इसे तत्काल प्रभाव से कभी भी बंद किया जा सकता है।

अभी 31 जनवरी तक है रजिस्ट्रेशन की तिथि

बीते महीनों में सीएम अखिलेश यादव ने ऐलान किया था कि अगर उनकी पार्टी चुनाव जीतती है तो 'समाजवादी स्मार्टफोन योज़ना' के तहत आम जनता को मुफ्त स्मार्टफोन बांटे जाएंगे। इन स्मार्टफोन को 2017 की दूसरी छमाही में बांटा जाएगा। इस स्कीम के लिए पहले ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन 10 अकटूबर से शुरू होकर 10 नवंबर तक होने थे। बाद में इसकी तिथि ​बढाकर 31 जनवरी कर दी गई। इसी को लेकर भाजपा ने निर्वाचन आयोग में शिकायत की है।

aman

aman

अमन कुमार, सात सालों से पत्रकारिता कर रहे हैं। New Delhi Ymca में जर्नलिज्म की पढ़ाई के दौरान ही ये 'कृषि जागरण' पत्रिका से जुड़े। इस दौरान इनके कई लेख राष्ट्रीय, अंतरराष्ट्रीय और कृषि से जुड़े मुद्दों पर छप चुके हैं। बाद में ये आकाशवाणी दिल्ली से जुड़े। इस दौरान ये फीचर यूनिट का हिस्सा बने और कई रेडियो फीचर पर टीम वर्क किया। फिर इन्होंने नई पारी की शुरुआत 'इंडिया न्यूज़' ग्रुप से की। यहां इन्होंने दैनिक समाचार पत्र 'आज समाज' के लिए हरियाणा, दिल्ली और जनरल डेस्क पर काम किया। इस दौरान इनके कई व्यंग्यात्मक लेख संपादकीय पन्ने पर छपते रहे। करीब दो सालों से वेब पोर्टल से जुड़े हैं।

Next Story