Top
TRENDING TAGS :Coronavirusvaccination

BOOTH तक ले जाएगा GOOGLE MAP, मतदाताओं के लिए तैयार हो गया मोबाइल APP

डाउनलोड करने के बाद यह आपसे अपका वोटर कार्ड नंबर मांगेगा। कार्ड नंबर डालते ही एप बूथ का कोड बता देगा। इसके बाद विकल्पों का प्रयोग कर आप गूगल मैप से जुड़ जाएंगे। गूगल मैप आपके बूथ का रास्ता बताएगा, जिससे आप आसानी से बूथ तक पहुंच सकेंगे।

zafar

zafarBy zafar

Published on 6 Jan 2017 9:06 AM GMT

BOOTH तक ले जाएगा GOOGLE MAP, मतदाताओं के लिए तैयार हो गया मोबाइल APP
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नोएडा: गौतमबुद्ध नगर में लोगों को मतदान केंद्र ढूंढने के लिए भटकना नहीं पड़ेगा। इसके लिए जिला प्रशासन ने एक मोबाइल एप बनाया है। जिसे 'नो योर बूथ' नाम दिया गया है। यह गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है। डाउनलोड के बाद यह एप आपको बताएगा कि आपका बूथ कौन सा है और कहां है। डिजिटल फॉर्म में यह एप हर गली, मोड़ तक बताएगा, जिससे आप आसानी से बूथ तक पहुंच सकेंगे।

कैसे करेगा काम

-जिला निर्वाचन अधिकारी एनपी सिंह ने बताया कि डाउनलोड करने के बाद यह आपसे अपका वोटर कार्ड नंबर मांगेगा।

-कार्ड नंबर डालते ही एप बूथ का कोड बता देगा।

-इसके बाद विकल्पों का प्रयोग कर आप गूगल मैप से जुड़ जाएंगे।

-गूगल मैप आपके बूथ का रास्ता बताएगा, जिससे आप आसानी से बूथ तक पहुंच सकेंगे।

-ऐसा पहली बार सिर्फ गौतमबुद्ध नगर के किया जा रहा है।

नए वोटरों को राहत

-गौतमबुद्ध नगर की तीनों विधानसभा क्षेत्र दादरी, जेवर व नोएडा में इस बार 58596 नए मतदाता जुड़े हैं। इसमें अधिकांश यूथ हैं।

-ये नए मतदाता नई सोसाइटीज और नए सेक्टर में रहने वाले हैं।

-इसमें अकेले नोएडा में 21733, दादरी में 24420 और जेवर में 12443 नए मतदाता हैं।

-इन मतदाताओं के अनुसार बूथों की संख्या में भी इजाफा किया गया है।

-इस बार कुल 480 मतदान केंद्र व 1242 मतदेय स्थल बनाए गए हैं और इन सभी को गूगल मैप से जोड़ा गया है।

पर्ची के पीछे होगा मैप

-छह फरवरी तक सभी मतदाताओं के पास वोटर पर्ची पहुंचा दी जाएगी।

-खास बात यह है कि पर्ची पर आपकी फोटो तो होगी ही साथ ही पर्ची के पीछे गूगल मैप भी होगा।

-ऐसे में, जो लोग इंटरनेट प्रयोग नहीं करते, वे भी इस मैप के जरिए अपने बूथ तक जा सकेंगे।

zafar

zafar

Next Story