×

50 लाख की अल्कोहल युक्त स्प्रिट के साथ 6 गिरफ्तार, 3 टैंकर बरामद हुआ स्प्रिट

उत्तर प्रदेश में जहरीली शराब से सैकड़ों लोगों की हुई मौत के बाद पुलिस महकमा जाग उठा है। रविवार देर रात इस धंधे पर अंकुश लगाने के लिए सर्च आपरेशन में लगी लम्भुआ कोतवाली पुलिस को बड़ी उपल्ब्धि हाथ लगी।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumarBy Dharmendra kumar

Published on 11 Feb 2019 2:56 PM GMT

50 लाख की अल्कोहल युक्त स्प्रिट के साथ 6 गिरफ्तार, 3 टैंकर बरामद हुआ स्प्रिट
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

सुल्तानपुर: उत्तर प्रदेश में जहरीली शराब से सैकड़ों लोगों की हुई मौत के बाद पुलिस महकमा जाग उठा है। रविवार देर रात इस धंधे पर अंकुश लगाने के लिए सर्च आपरेशन में लगी लम्भुआ कोतवाली पुलिस को बड़ी उपल्ब्धि हाथ लगी।

यह भी पढ़ें.....खंडहर में बन रहा था नकली डीजल, छापेमारी कर अवैध कारखाना सीज

पुलिस ने तीन टैंकर रैक्टिफाई स्प्रिट के साथ 6 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। बरामद स्प्रिट की कीमत 50 लाख के आसपास बताई जा रही। वहीं पुलिस ने आरोपितों के पास से उपकरणों के साथ दो लाख के ऊपर कैश बरामद किया है।

एसएचओ श्याम सुंदर पांडेय ने जानकारी देते हुए बताया कि रविवार की देर रात वो हमराह सिपाहियों के गश्त पर थे। तभी इलाके के भदैया में किसान ढ़ाबे पर संदिग्ध अवस्था में तीन टैंकर नजर आए। पड़ताल के दौरान तीनों टैंकरों में लगभग 75 हजार लीटर रैक्टिफाई स्प्रिट पाई गई। इसके बाद धर पकड़ अभियान शुरू किया गया जिसमें 6 लोगों को गिरफ्तार किया गया, साथ में एक ब्लैक कलर की स्कार्पियो गाड़ी भी बरामद हुई है।

यह भी पढ़ें.....हमारे गठबंधन के बाद भाजपा का कोई किस्मतवाला ही चुनाव जीत पायेगा: बेनी प्रसाद

उन्होंने बताया कि पकड़े गए लोगों के पास से दो लाख पच्चीस हजार के ऊपर कैश, व उपकरण बरामद हुए हैं। एसएचओ ने ये भी बताया कि बरामद स्प्रिट भटिंडा के वीसीएल इंडस्ट्रीज से खरीदी गई थी जो कि 97% एल्कोहल पर आधारित है। उन्होंने ये भी बताया कि इस स्प्रिट से करीब तीन गुना शराब तैयार की जानी थी जो बाद में शराब की सरकारी दुकानों पर बेची जानी थी।

यह भी पढ़ें.....चौकीदार चोर नहीं प्योर है, उसका अगली बार पीएम बनना श्योर है: राजनाथ

गिरफ्तार किए गए अभियुक्तों की पहचान कोतवाली नगर के गोराबारिक निवासी राजेश जायसवाल, लम्भुआ के भदैया निवासी नितिन कुमार मिश्रा, इसी गांव के निवासी राम नरायण मिश्रा, पश्चिम बंगाल के कोलकाता स्थित मुकुंदपुर निवासी हरचंद, झारखंड के हजारी बाग स्थित बरकट्ठा केन्टुआ निवासी गिरधारी यादव, बिहार के मोतिहारी चिरैया लालबेगिया निवासी भरोस पंडित के रुप में हुई है।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumar

Next Story