शिक्षक भर्ती की सीबीआई जांच कराने के खिलाफ सरकार ने दाखिल की अपील

सूबे की योगी सरकार ने 68500 सहायक शिक्षकों की भर्ती में हुई कथित घेर अनियमितताअें की सीबीआई से जांच कराने संबधी इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच के एकल पीठ द्वारा गत दिनें पारित आदेश को डिवीजन बेंच के सामने स्पेशल अपील याचिका दायर कर  चुनौती दी है।

Published by Rishi Published: November 21, 2018 | 10:16 pm

लखनऊ : सूबे की योगी सरकार ने 68500 सहायक शिक्षकों की भर्ती में हुई कथित घेर अनियमितताअें की सीबीआई से जांच कराने संबधी इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच के एकल पीठ द्वारा गत दिनें पारित आदेश को डिवीजन बेंच के सामने स्पेशल अपील याचिका दायर कर  चुनौती दी है।

ये भी देखें : BJP के प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र नाथ ने शिवपाल को दी नसीहत कहा- अपना ज्ञान सुधर लें

यह स्पेशल अपील चीफ जस्टिस गोंविद माथुर व जस्टिस राजेश सिंह चौहान की बेंच के सामने गुरूवार को सुनवाई के लिए सूचीबद्ध है। दरअसल एकल पीठ के न्यायाधीश जस्टिस इरशाद अली ने गत 1 नवंबर को सोनिका देवी व अन्य की ओर से अलग अलग दायर कई रिट याचिकाओं पर एक साथ सुनवाई करते पूरी भर्ती प्रकिया में बड़े पैमाने पर प्रथम दृष्टया गड़बड़िया पाते हुए पूरी प्रकिया की जांच सीबीआई को सौंप दी थी।

ये भी देखें : प्रयागराज : हाईकोर्ट से हजारों अधिवक्ता कूच करेंगे अयोध्या

सरकार ने  डिवीजन बेंच के सामने एकल पीठ के फैसले को चुनौती देते हुए उक्त 1 नवंबर के आदेश को रद्द करने की मांग की है। राज्य सरकार की ओर से दलील दी गयी है कि पूरी भर्ती प्रकिया पारदर्शी  थी और इसमें कही किसी प्रकार का भ्रष्टाचार नहीं हुआ। यह भी कहा गया है कि कोर्ट के कहने पर सरकार ने स्वयं एक उच्चस्तरीय कमेटी बनाकर उससे जांच करने को कहा था ऐसे मे सीबीआई से जांच कराने का कोई औचित्य नहीं है।

ये भी देखें : हाईकोर्ट ने दुबग्गा के खसरा नंबर 457 पर कूड़ा ढेर करने पर लगायी रोक