×

मौनी अमावस्या के दिन 40 घाटों पर 8 कि.मी. क्षेत्र में 3 करोड़ से अधिक श्रद्धालु करेंगे स्नान 

उन्होंने बताया कि पास धारक मीडियाकर्मियों के आवा-जाही के लिये लाल सडक खुली रहेगी। इस अवसर पर जिलाधिकारी प्रयागराज सुहास एल.वाई, आई.जी. मोहित अग्रवाल, एस.एस.पी. प्रयागराज नितिन तिवारी, सूचना निदेशक शिशिर प्रमुख रूप से मौजूद रहें।

Shivakant Shukla

Shivakant ShuklaBy Shivakant Shukla

Published on 3 Feb 2019 3:30 PM GMT

मौनी अमावस्या के दिन 40 घाटों पर 8 कि.मी. क्षेत्र में 3 करोड़ से अधिक श्रद्धालु करेंगे स्नान 
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

आशीष पाण्डेय,

कुंभ नगर: दिव्य कुंभ भव्य कुंभ का सकात्मक संकेत पूरे विश्व में जा रहा है। जिसे बरकरार रखने के लिए मौनी अमावस्या पर द्वितीय शाही स्नान को सकुशल सम्पन्न कराने के लिए सुरक्षा की अभेद्य व्यवस्था की गई है।मेले में श्रद्वालुओं को असुविधा न हो, इसके लिये मेला प्रशासन पूरी तरह सतर्क है। हर स्थिति पर पैनी नजर रखा जा रहा है।

पूरे विश्व में जा रहा दिव्य कुंभ भव्य कुंभ का सकारात्मक संदेश: डा. आशीष गोयल

श्रद्धालुओं की सुविधा व सुरक्षा को लेकर लगातार माइक्रो लेविल पर तैयारियों की समीक्षा की गयी है और इसमें कोई चूक न हो इसके लिए बाकायदा रिहर्सल भी की गई है। रेलवे, चिकित्सा, सुरक्षा, बस अड्डों आदि स्थलों का निरीक्षण किया गया है। अखाडों व संत-महात्माओं के साथ समन्वय व सामंजस्य बनाकर शाही स्नान कराया जाएगा। कहीं पर किसी भी प्रकार की कोई अप्रिय घटना न हो, इसके लिये कुम्भ मेला व जिला प्रशासन जल, थल और नभ से निगरानी करते कर रहा है।

ये भी पढ़ें— बजट सत्र को लेकर सर्वदलीय बैठक कल, 12.30 बजे विधानसभा अध्यक्ष ने बुलाई बैठक

उक्त जानकारी कुंभ मेला क्षेत्र के काली सडक पर बने राष्ट्रीय मीडिया सेन्टर में प्रेसवार्ता के दौरान मण्डलायुक्त डा. आशीष कुमार गोयल ने दी। उन्होंने कहा कि दिव्य कुम्भ व भव्य कुम्भ का सकारात्मक संदेश पूरे विश्व में जा रहा है। मण्डलायुक्त ने बताया कि आज हेलीकाप्टर से एडीजी व आईजी के साथ मेले का भ्रमण किया गया है। कन्ट्रोल रूम के साथ आपदा प्रबंधन की लगातार बैठकें की जा रही हैं और व्यवस्था को मुकम्मल स्वरूप प्रदान किया गया है तथा 500 शटल बसों की निःशुल्क व्यवस्था की गयी है। मेला क्षेत्र के साथ मुख्य मार्गो पर पेयजल की उचित व्यवस्था की गयी है तथा श्रद्वालुओं के लिये रैन बसेरों के इंतजाम किये गये हैं।

सकुशल शाही स्नान सम्पन्न हो इसके लिए बनाई समय सारणी: एस.एन. रावत

एडीजी एस.एन. सावत ने बताया कि अखाडों के शाही स्नान के लिए समय सारिणी निर्धारित की गई है। अखाड़ों का शाही स्नान संगम नोज पर सुबह 6.15 बजे से शुरू हो जाएगा। सबसे पहले श्री पंचायती अखाडा महानिर्वाणी/श्री पंचायती अटल अखाड़ा स्नान करेंगे। उसके बाद पंचायती निरंजनी अखाड़ा, तपोनिधि श्री पंचायती आनन्द अखाडा 7.05 बजे संगम तट पर पहुंचेगे। उसके बाद पंचदशनाम जूना अखाडा/श्री पंच दशनाम आवाहन अखाडा/श्री शम्भू पंच अग्नि अखाडा 8 बजे घाट पर पहुंचेगे।

ये भी पढ़ें— यूपी: ‘भारत के मन की बात’ महाअभियान की शुरुआत 4 से, BJP मुख्यालय से वीडियो रथ होंगे रवाना

उसके बाद अखिल भारतीय श्री पंचनिर्वाणी अनी अखाडा 10.40 बजे, अखिल भारतीय श्री पंच दिगम्बर अनी अखाडा 11.20 बजे, अखिल भारतीय श्री पंच निर्मोही अनी अखाडा 12.20 बजे स्नान करेंगे। उसी तरह श्री पंचायती अखाडा नया उदासीन अपरान्ह 1.15 बजे, श्री पंचायती अखाडा बडा उदासीन 2.20 बजे, श्री पंचायती अखाडा निर्मल 3.40 बजे स्नान करने स्नान घाट पहुंचेगे।

10 जोन व 40 सेक्टरों में बांटकर सुरक्षा को किया गया है अभेद्य: के.पी. सिंह

एसएसपी कुंभ मेला के.पी. सिंह ने मौनी अमावस्या पर पुलिस प्रबन्धन के विषय में बताया कि मौनी अमावस्या के अवसर पर पुलिस फोर्स के व्यापक प्रबन्ध किये गये हैं। मेला क्षेत्र को 10 जोन एवं 25 सेक्टर में बांटा गया है। प्रत्येक जोन का प्रभार अपर पुलिस अधीक्षक स्तर के अधिकारी को तथा प्रत्येक सेक्टर का प्रभार पुलिस उपाधीक्षक स्तर के अधिकारी को दिया गया है। मेले में बनाये गये 40 थानों पर प्रभारी निरीक्षक स्तर के अधिकारी तथा 58 चौकियों पर उपनिरीक्षक तैनात रहेंगे।

ये भी पढ़ें— चिटफंड घोटाला: ममता ने कहा- संविधान को बचाने के लिए धरने पर बैठूंगी

मेले में पर्याप्त मात्रा में मजिस्ट्रेट व पुलिस के उच्चाधिकारियों के साथ-साथ पैरामिलेट्री फोर्स, एन.डी.आर.एफ., जल पुलिस, व नाविकों की व्यवस्था की गयी है और उन्हें आवश्यक दिशा-निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने बताया कि पास धारक मीडियाकर्मियों के आवा-जाही के लिये लाल सडक खुली रहेगी। इस अवसर पर जिलाधिकारी प्रयागराज सुहास एल.वाई, आई.जी. मोहित अग्रवाल, एस.एस.पी. प्रयागराज नितिन तिवारी, सूचना निदेशक शिशिर प्रमुख रूप से मौजूद रहें।

Shivakant Shukla

Shivakant Shukla

Next Story