Top

न्यूज़ट्रैक की खबर का असर- AAP सांसद ने CM योगी से पूछे ये सवाल

आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद व प्रदेश प्रभारी संजय सिंह ने 'न्यूज़ट्रैक' द्वारा छापी गई फ़ोटो को दिखाकर प्रेस कॉन्फ्रेंस की। साथ ही उन्होंने प्रदेश में बढ़ रहे कोरोना के मामलों को लेकर योगी सरकार से सवाल भी पूछे।

Monika

MonikaPublished By Monika

Published on 8 April 2021 9:44 AM GMT

न्यूज़ट्रैक की खबर का असर- AAP सांसद ने CM योगी से पूछे ये सवाल
X

AAP राज्यसभा सांसद संजय सिंह (फाइल फोटो ) 

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: कोरोना वायरस महामारी के चलते लोगों का बुरा हाल देखने को मिल रहा है। यूपी के अस्पतालों से लेकर शमशानघाट तक लंबी लाइन देखने को मिल रही है। इलाज के लिए अपनी बारी का इंतज़ार करते हुए ही आम नागरिक की मौत हो जा रही हैं। वही शमशान में भी लाश को जलाने के लिए घंटों इंतज़ार करना पद रहा है। इसी बीच आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद व प्रदेश प्रभारी संजय सिंह ने 'न्यूज़ट्रैक' द्वारा छापी गई फ़ोटो को दिखाकर प्रेस कॉन्फ्रेंस की। साथ ही उन्होंने प्रदेश में बढ़ रहे कोरोना के मामलों को लेकर योगी सरकार से सवाल भी पूछे।

उन्होंने कहा कि 'उत्तर प्रदेश में कोरोना महामारी ने भयावह रूप ले लिया है, ना तो अस्पतालों में बेड मिल रहा है ना ही श्मशानों में लाश जलने की जगह मिल रही है।'

संजय सिंह ने एक ख़बर का ज़िक्र करते हुए बताया कि 'ना डॉक्टर आए, ना एम्बुलेंस आई, एक बेटे से कहा गया खुद अपने पिता को इंजेक्शन लगा लो, उस पिता ने बेटे के सामने दम तोड़ दिया, ये स्थिति है यूपी की।

अस्पताल मे भी लाइन, श्मशान में भी लाइन फिर मौत के आंकड़े में हेराफेरी।

10 दिन के अंदर चार गुना केस और मौतें बढ़ी हैं

आप राज्यसभा सांसद ने कहा कि जहाँ 18-22 मार्च तक राजधानी में 12 लोगों की और प्रदेश मे 32 लोगों की मौत हुई थी, वहीं 28 मार्च से 6 अप्रैल तक राजधानी में मरने वालो का आंकड़ा 47 और प्रदेश में वही आंकड़ा 147 पहुँच गया। बेतहाशा संक्रमण फ़ैल रहा है पूरे प्रदेश में, टोकन से अंतिम संस्कार हो रहा है।

साथ ही संजय सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कोरोना से हो रही मौतों पर सरकारी आंकड़ों पर भी सवाल उठाए। उन्होंने कहा कि 'बदइंतज़ामी की हद पार हो गई है, बताया जा रहा है 20 मौत हुई है लखनऊ में, मगर संक्रमित लाशें 60 लोगों की जलाई गई, 12-12 घंटे की लाइन लगी है लाश जलने के लिए। मैं पूछना चाहता हूँ मुख्यमंत्री कहाँ हैं?'

प्रेस कॉन्फ्रेंस में संजय सिंह ने लगातार संक्रमित हो रहे डॉक्टर्स के हित में भी सवाल पूछे। उन्होंने कहा कि 'अस्पतालों में बेड नहीं है, श्मशान में जगह नहीं लाश जलाने के लिए, KGMU जैसे प्रतिष्ठित अस्पताल के अनेक डॉक्टर स्वयं संक्रमित हो गए हैं, मगर मुख्यमंत्री को केवल बंगाल चुनाव की चिंता है, आदित्यनाथ आपको 325 सीटें दी है जनता ने मगर आप संवेदनहीनता की हद पार कर चुके हैं।'

अलग-अलग जिलों में वैक्सीन ख़त्म होने की ख़बरों को लेकर संजय सिंह ने अपनी प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि 'शर्म आती है मुझे, श्मशानों के दृश्य देखकर, UP के अस्पतालों की हालत देखकर, वैक्सीनेशन में लापरवाही देखकर। कानपुर,गाज़ियाबाद,नोएडा यहाँ तक की मुख्यमंत्री के गृहजनपद गोरखपुर में वैक्सीन ख़त्म होने की खबर है, जहाँ पहले भी ऑक्सीजन ख़त्म होने से 60 बच्चे मर गए थे।'

Monika

Monika

Next Story