Top

आखिर कौन हैं BJP नेता बृजपाल तेवतिया, मुखबिरी करना पड़ा भारी

By

Published on 12 Aug 2016 5:47 AM GMT

आखिर कौन हैं BJP नेता बृजपाल तेवतिया, मुखबिरी करना पड़ा भारी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

गाजियाबाद/नोएडा: बीजेपी नेता बृजपाल तेवतिया के काफिले पर गुरुवार की शाम बदमाशों ने एके 47 से कई राउंड फायरिंग की। इसमें 7 लोग घायल हो गए हैं इसमे तेवतिया की हालत गंभीर है उनके 6 गोलियां लगी हैं। तेवतिया जाट नेता हैं और गृहमंत्री राजनाथ सिंह के बेहद करीबी मानें जाते हैं। तेवतिया साल 2012 में मुरादनगर से चुनाव लड़ चुके हैं लेकिन वह 5 हजार वोटों से हार गए थे।

इस बार भी मुरादनगर से उन्हें टिकट मिलने की उम्मीद जताई जा रही थी। वह लगातार अपने इलाके में लोगों के साथ बैठक कर रहे थे। बताया जा रहा है कि इसी तरह की एक बैठक से वह लौट रहे थे तभी उन पर हमला हुआ। तेवतिया पर हमले के पीछे रंजिश बताई जा रही है। तेवतिया की हिस्ट्रीशीटर राकेश हसनपुरिया से दुश्‍मनी चल रही थी, हालांकि राकेश काे एक मुठभेड़ में पुलिस और एसटीएफ की टीम ने मार गिराया था। इसके बाद खबर उड़ी थी कि हसनपुरिया की तेवतिया ने मुखबिरी की थी।

तेवतिया का रंजिशों से नाता

-बीजेपी नेता तेवतिया यूपी पुलिस कांस्टेबल सुरेश दीवान के मर्डर के आरोप में जेल भी जा चुके हैं।

-उस समय यूपी के गैंगस्टर राकेश हसनपुरिया से उनका विवाद चल रहा था।

-थाना कविनगर और एसटीएफ ने मिलकर हिस्ट्रीशीटर राकेश हसनपुरिया को श्‍यामा प्रसाद मुखर्जी पार्क के पास मार गिराया था।

-पुलिस के अनुसार उस पर एक दर्जन से अधिक मुकदमे चल रहे थे।

-राकेश जिला पंचायत का मेंबर भी बन गया था।

-राकेश हसनपुरिया की पत्नी सुनीता हापुड़ में पुलिस कांस्टेबल हैं।

-हसनपुरिया के एनकाउंटर को सुनीता ने फर्जी बताया था।

-तेवतिया पर हमले के बाद पुलिस ने सुनीता को भी पूछताछ के लिए कस्टडी में लिया है।

Next Story