×

Lucknow: ACMO डॉ. एपी सिंह ने चौक अस्पताल के संचालन पर लगाई रोक, नहीं मिला नवीनीकरण प्रमाण पत्र व फायर एग्जिट

Lucknow News Today: लेवाना सुइट्स होटल अग्निकांड के बाद से ही, राजधानी में स्वास्थ्य विभाग (health Department) की ताबड़तोड़ कार्रवाई जारी है। चौक अस्पताल के संचालन पर रोक लगा दी गई।

Shashwat Mishra
Updated on: 21 Sep 2022 1:52 PM GMT
ACMO Dr. AP Singh banned the operation of Chowk Hospital, did not get renewal certificate and fire exit
X

लखनऊ: ACMO डॉ. एपी सिंह ने चौक अस्पताल के संचालन पर लगाई रोक

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Lucknow: लेवाना सुइट्स होटल अग्निकांड के बाद से ही, राजधानी में स्वास्थ्य विभाग (health Department) की ताबड़तोड़ कार्रवाई जारी है। नर्सिंग होम्स के नोडल अधिकारी व अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. अखण्ड प्रताप सिंह (ACMO Dr. Akhand Pratap Singh) एक्शन में नज़र आ रहे हैं। बुधवार को उन्होंने चौक अस्पताल (Chowk Hospital) के संचालन पर रोक लगा दी। अब अस्पताल किसी भी मरीज़ को न तो भर्ती कर सकेगा और न ही किसी मरीज़ को हॉस्पिटल में परामर्श दिया जा सकेगा। गौरतलब है कि अस्पताल के औचक निरीक्षण के बाद उसे नोटिस दिया गया था।

चौक हॉस्पिटल के संचालन पर लगाई गई रोक

अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. एपी सिंह ने बताया कि चौक अस्पताल के निरीक्षण के समय उसका नवीनीकरण प्रमाण-पत्र उपलब्ध नहीं कराया गया था। चिकित्सालय में बायोमेडिकल वेस्ट का निस्तारण नियमानुसार करते हुये नहीं पाया गया। फॉयर एक्जिट नहीं पाया गया। चिकित्सालय में मरीजों के आवागमन हेतु उचित व्यवस्था नहीं पायी गयी।

चिकित्सालय में फॉयर एक्सटिंग्यूशर के अलावा अग्नि सुरक्षा हेतु कोई वैकल्पिक व्यवस्था नहीं पायी गयी। चिकित्सालय में कलर कोडेड डस्टबिन्स नहीं पाये गये। चिकित्सालय में इलेक्ट्रिक पैनल खुले पाये गये, तार अस्त-व्यस्त पाये गये थे। उन्होंने बताया कि अस्पताल का जवाब संतोषजनक नहीं पाया गया। जिसके बाद बुधवार को उसके संचालन पर रोक लगा दी।

13 सितंबर को हुआ था निरीक्षण

गौरतलब है कि 13 सितंबर, 2022 को एसीएमओ डॉ. एपी सिंह ने चौक के वी. केयर अस्पताल, चौक अस्पताल, सीतापुर रोड़ के हिरा अस्पताल व डालीगंज के लखनऊ हॉस्पिटल एण्ड मैटरनिटी सेण्टर में औचक निरीक्षण किया था। जिसमें तमाम तरह की गड़बड़ियां सामने आई थी। एसीएमओ ने सभी अस्पतालों को नोटिस देकर, 48 घण्टे में जवाब देने को कहा था।

Shashi kant gautam

Shashi kant gautam

Next Story