अपर मुख्य सचिव ने चेताया, सीएम हैं सख्त लापरवाही नहीं होगी बर्दाश्त

अवस्थी ने कहा कि नये कम्युनिटी किचेन खोले जा रहें हैं।  मुख्यमंत्री ने अपील की है कि सभी लोग मुख्यमंत्री फंड में सहायता करें।  योगी जी ने सभी सहायता करने वालों का मुख्यमंत्री ने आभार जताया है।  उन्होंने बताया कि 34 लाख लीटर दुग्ध का वितरण जारी है।

अवनीश अवस्थी की फ़ाइल फोटो

अवनीश अवस्थी की फ़ाइल फोटो

लखनऊ। प्रदेश में कोरोना संक्रमण के खिलाफ राज्य सरकार के  कर्मचारी और एनजीओ अपना कार्य कर रहे है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ लगातार बैठकें कर रहे है। आज भी  उन्होंने अपने पूर्व निर्धारित कार्यक्रम में बदलाव करके अधिकारियों के साथ बैठक की और कहा कि प्रदेश में कोरोना को लेकर  किसी भी तरह की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। इस बैठक में उन्होंने  बरेली की घटना को अशिष्ट बताया।

वाराणसी के डीएम एसएसपी को सराहा

अपर मुख्य सचिव अवनीश कुमार अवस्थी ने कहा कि मुख्यमंत्री ने वाराणसी के जिलाधिकारी और एसएसपी की सराहना की है और  प्रदेश की मेंरेट लिस्ट को हर हाल में फॉलो करने के निर्देश दिया दिये हैं । अपर मुख्य सचिव गृह ने बताया कि पूरे प्रदेश मे अब तक 6079 एफआईआर धारा 188 के तहत दर्ज हुई है। जबकि 5250 बैरियर पूरे प्रदेश में लगाये गए हैं, इसके साथ ही  12213 गाड़िया भी सीज की गई है। उन्होंने कहा कि फल सब्जी का वितरण 35586 गाड़ियों व ढेलों से किया गया. इसके अलावा  16410 किराना स्टोर के माध्यम से किराना का वितरण किया गया है। इसके अलावा 4 लाख 65 हजार फूड पैकेट बाटे गए हैं। जबकि कंट्रोल रूम की मॉनिटरिंग की जा रही है।  अवस्थी ने बताया कि मुख्यमंत्री ने लॉकडाउन पर बेहद सख्त हैं  लखनऊ में और सख्ती की जायेगी।

अब नए कम्युनिटी किचेन की बारी

अवस्थी ने कहा कि नये कम्युनिटी किचेन खोले जा रहें हैं।  मुख्यमंत्री ने अपील की है कि सभी लोग मुख्यमंत्री फंड में सहायता करें।  योगी जी ने सभी सहायता करने वालों का मुख्यमंत्री ने आभार जताया है।  उन्होंने बताया कि 34 लाख लीटर दुग्ध का वितरण जारी है।

सभी जिलाधिकारियों से कहा गया है कि दुकानों पर रेट लिस्ट लगवाने का काम करें। जिससे जनता को किसी भी तरह की तकलीफ न होने पाए। उन्होंने कहा कि भोजन के लाखों पैकेट बांटे जा रहें हैं। लेकिन जां भी कालाबाजारी करते मिलेगा उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

108 व 102 की सेलरी देने के निर्देश

मुख्यमंत्री हेल्पलाइन से सहयोग लगातार किया जा रहा है।  मुख्यमंत्री के इन निर्देशों के बारे में पत्रकारों को बताया कि डायल 108 व 102 के कर्मचारियों की जहाँ भी जिस तरह की भी सैलरी बाकी है, उसको पूरा करने को कहा गया हैं । कम्युनिटी किचन को और तेजी से आगे बढ़ाए जाए। ग्राम प्रधानों से भी कहा गया है कि वह प्रधानों से बातचीत करें और जो भी दिक्कते हों उन्हे मुख्यमंत्री हेल्पलाइन में बताए।

इसे भी पढ़ें

कोरोना वायरसः ईरान में 141 और लोगों की मौत, अब तक 2,898 लोग मारे जा चुके

अवस्थी ने कहा कि देश भर में नोडल अफसर यूपी के लोगों की मदद कर रहें हैं।  इसके अलावा सेनेटाइजर की कमी को देखते हुए इसकी भरपाई के लिए 41 यूनिटे हैंड सैनिटाइजर का काम शुरू हो चुका है।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App