Top

अतिक्रमण हटाने में तोड़े गए धार्मिक स्थल, व्यापारियों को दी गई मोहलत

Admin

AdminBy Admin

Published on 17 March 2016 6:21 AM GMT

अतिक्रमण हटाने में तोड़े गए धार्मिक स्थल, व्यापारियों को दी गई मोहलत
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

बरेलीः बुधवार को रिठौरा में नेशनल हाइवे के पास पुलिस प्रशासन की मौजूदगी में अतिक्रमण के रास्ते में आए धार्मिक स्थलों को भी तोड़ दिया गया। वहीं सड़क किनारे दुकान लगाए व्यापारियों को 30 मार्च तक की मोहलत दी गयी है। इस दौरान भारी पुलिस फोर्स, पीएएसी के साथ अधिकारी भी मौजूद थे।

rithaura2

क्या है मामला

-बरेली से सितारगंज तक नेशनल हाइवे का चौड़ीकरण हो रहा है।

-बुधवार को रिठौरा के प्राचीन भीमसेन मंदिर, नन्हें शाह मियां की मजार, बालाजी मंदिर समेत कब्रिस्तान की बाउण्ड्री भी ढहा दी गई।

-प्रशासन ने पूरा इंतजाम करते हुए आस पास के थानों से पुलिस बल और पीएएसी को बुला लिया था।

-धार्मिक स्थलों पर जेसीबी चलने की खबर पर सैकड़ों कस्बाई सड़क पर पहुंच गए।

-सड़क के दोनों ओर घण्टों तक जाम की समस्या से यातायात बाधित रहा।

-प्रशासन ने कुछ दिन पूर्व ही अतिक्रमण हटाने की सूचना दे दी थी।

rithaura3

व्यापारियों को मिली मोहलत

-कस्बे के तमाम व्यापारियों ने प्रशासनिक अफसरों से होली के त्योहार को देखते हुए गुहार लगाई थी।

-सड़क के अतिक्रमण को होली बाद व्यापारी स्वंय हटा लेंगे।

-अभी तोड़ फोड़ करने से भारी नुकसान होगा और व्यापार पर बहुत प्रभाव पड़ेगा।

-एसडीएम सदर मनीष नाहर ने कहा कि व्यापारियों की मांग पर सड़क का अतिक्रमण अभी नहीं हटाया जा रहा है।

-अब इसे 30 मार्च को हटाया जाएगा, लेकिन उससे पहले सभी व्यापारी अतिक्रमण हटा लें।

-प्रशासन द्वारा अतिक्रमण हटाने पर जुर्माना भी लगेगा और सामान भी जब्त कर लिया जाएगा।

-अतिक्रमण हटाने में मोहलत मिलने से व्यापारियों में खुशी की लहर दौड़ गई।

Admin

Admin

Next Story