×

पश्चिमी यूपी में हाईकोर्ट बेंच की मांग को लेकर अधिवक्ताओं ने किया प्रदर्शन

पश्चिमी उत्तर प्रदेश में हाईकोर्ट बेंच की मांग को लेकर अधिवक्ताओं ने आज मेरठ के सिवाया गांव में प्रदर्शन किया। इसी कड़ी में उन्होंने सिवाया एनएच-58 को टोल फ्री कराते हुए सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। इस दौरान आंदोलनरत वकीलों ने टोल प्लाजा से गुजरने वाले वाहनों चालकों को पैम्फलेट वितरित कर अपने आंदोलन के लिए समर्थन भी मांगा।

Aditya Mishra

Aditya MishraBy Aditya Mishra

Published on 30 Jan 2019 11:08 AM GMT

पश्चिमी यूपी में हाईकोर्ट बेंच की मांग को लेकर अधिवक्ताओं ने किया प्रदर्शन
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

मेरठ: पश्चिमी उत्तर प्रदेश में हाईकोर्ट बेंच की मांग को लेकर अधिवक्ताओं ने आज मेरठ के सिवाया गांव में प्रदर्शन किया। इसी कड़ी में उन्होंने सिवाया एनएच-58 को टोल फ्री कराते हुए सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। इस दौरान आंदोलनरत वकीलों ने टोल प्लाजा से गुजरने वाले वाहनों चालकों को पैम्फलेट वितरित कर अपने आंदोलन के लिए समर्थन मांगा। वकीलों के इस पूर्व घोषित कार्यक्रम के मद्देनजर प्रशासन द्वारा बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया था।

इस मौके पर हाईकोर्ट बेंच स्थापना केंद्रीय संघर्ष समिति के चेयरमैन व मेरठ बार एसोसिएशन के अध्यक्ष राजेंद्र सिंह जानी ने एलान किया कि जब तक पश्चिम उत्तर प्रदेश में हाईकोर्ट बेंच की स्थापना नहीं हो जाती तब तक ये आंदोलन जारी रहेगा।

वहीं मेरठ बार एसोसिएशन के महामंत्री देवकीनंदन शर्मा ने कहा कि 35 वर्षों से पश्चिमी यूपी की जनता हाईकोर्ट बेंच की स्थापना की मांग करती आ रही है। 7 करोड़ की आबादी वाले इस क्षेत्र के लिए उच्च न्यायालय की पीठ स्थापित नहीं की गई है।

जबकि कई राज्यों में पश्चिमी उत्तर प्रदेश की जनसंख्या के बराबर आबादी होने पर ही हाईकोर्ट बेंच स्थापित कर दी गई है। यह पश्चिम उत्तर प्रदेश की जनता के साथ सरासर अन्याय है।

ये भी पढ़ें...हरदोई के वकीलों व बेरोजगारी मुक्ति यात्रा के लोगों की अखिलेश से फरियाद

Aditya Mishra

Aditya Mishra

Next Story