×

यूपी के 11 जिलों में एयरपोर्ट बनेंगे, AAI को विकास का जिम्मा 

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 7 Feb 2018 3:16 PM GMT

यूपी के 11 जिलों में एयरपोर्ट बनेंगे, AAI को विकास का जिम्मा 
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

लखनऊ : यूपी की रीजनल कनेक्टिविटी स्कीम (आरसीएस) के तहत 11 जिलों में एयरपोर्ट बनेंगे। Airports Authority of India (AAI) को इसके विकास का ​जिम्मा सौंपा गया है। इनमें श्रावस्ती, अलीगढ़, चित्रकूट, म्योरपुर (सोनभद्र), आजमगढ़, झांसी और मुरादाबाद राज्य सरकार के स्वामित्व वाले एयरपोर्ट हैं। आगरा, कानपुर, बरेली और इलाहाबाद से भी उड़ानों का संचालन होगा।

पहले चयनित रूट में सिर्फ एक पर उड़ान

आरसीएस की पहली बिड में राज्य के चार रूटों पर उड़ानों का चयन किया गया था। इसमें से सिर्फ एक रूट आगरा—जयपुर पर बीते आठ दिसम्बर से उड़ाने शुरू हुई हैं। इस रूट पर एलाइड सर्विसेज लिमिटेड आपरेटर है।

इन रूटों पर तय समय से नहीं शुरू हो सकी उड़ान

लखनऊ—ग्वालियर रूट पर सितम्बर 2017 से उड़ान शुरू करने का लक्ष्य था।

कानपुर—दिल्ली रूट पर एयर उड़ीसा एविएशन प्राइवेट लि को सितम्बर 2017 से सेवा शुरू करनी थी।

इसी रूट पर एक अन्य उड़ान के लिए स्पाइसजैट लिमिटेड को अगस्त 2017 से सेवा शुरू करनी थी।

कानपुर—वाराणसी रूट पर एयर उड़ीसा एविएशन प्राइवेट लिमिटेड को सितम्बर 2017 से उड़ान शुरू करनी थी।

आगरा​—दिल्ली रूट पर डैक्कन चार्टर्स प्राइवेट लि को अगस्त 2017 से उड़ान शुरू करनी थी।

इन विभागों को मिला है य​ह जिम्मा

लोक निर्माण विभाग को एयरपोर्ट से मुख्य मार्ग तक सड़क निर्माण काम की योजना।

गृह विभाग सुरक्षा के लिए कार्मिकों के पद सृजन का काम।

स्वास्थ्य महकमे का स्वास्थ्य सुविधाओं के लिए प्रस्ताव तैयार करना।

परिवहन विभाग का एयरपोर्ट तक रूट्स तय करना।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story