Top

CM बोले संभव हैं दिसंबर में चुनाव, विपक्ष को ISSUES पर लड़ने की चुनौती

Sanjay Bhatnagar

Sanjay BhatnagarBy Sanjay Bhatnagar

Published on 27 Jun 2016 8:52 AM GMT

CM बोले संभव हैं दिसंबर में चुनाव, विपक्ष को ISSUES पर लड़ने की चुनौती
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: यूपी के सीएम अखिलेश यादव ने आगामी दिसमबर में विधानसभा चुनाव होने की संभावना व्यक्त की है। सोमवार को एक मंच पर अखिलेश ने कहा कि उनके विरोधी यादवों को प्राथमिकता देने के सवाल पर नहीं, बल्कि मेट्रो के सवाल पर लड़ें।

दिसंबर में चुनाव

-एक अखबार समूह के फोरम पर अखिलेश यादव ने कहा कि गवर्नर भी कह रहे हैं कि इस राज में यादवों को प्राथमिकता दी जा रही है।

-अखिलेश ने कहा कि ऐसा नहीं है, और गवर्नर साहब बताएं कि कितने यादव आईपीएस हैं।

-सीएम ने ध्यान दिलाया कि न तो इस राज्य का मुख्य सचिव यादव है, न उनके साथ जुड़े अन्य अधिकारी यादव हैं।

-सीएम ने कहा कि यूपी में विधानसभा चुनाव दिसम्बर में हो जाने चाहिए ।

cm akhilesh- assembly elections-development work लखनऊ मेट्रो: सीेएम अखिलेश के लिए विकास का प्रतीक

विकास में तेजी

-विकास के कामों का हवाला देते हुए सीएम ने सरकार की कई उपलब्धियां गिनाईं।

-उन्होंने कहा कि राजधानी में ज्यादा से ज्यादा पार्क बनाने की कोशिश है ताकि विरोधी भी वहां ताजी हवा ले सकें।

-मेट्रो का काम तेजी से चल रहा है और गोमती नदी के रिवर फ्रंट का काम तेजी से हो रहा है।

-अभी अधूरे काम में ही हजारों लोग रोज शाम को गोमती नदी का नजारा लेने आते हैं। काम पूरा हो जाने पर गोमती नदी पर हुआ काम देश के लिए एक उदाहरण होगा और इससे रोजगार भी बढ़ेगा ।

-यूपी में बिजली की उपलब्धता के कारण ही इनवर्टर और जेनरेटर का बाजार मंदा हो गया है और अगले विधानसभा चुनाव में सपा अपने घोषणापत्र में एक साल में 24 घंटे बिजली देने का वादा करेगी।

केंद्र की आलोचना

-एंबुलेंस सेवा की चर्चा करते हुए सीएम ने केंद्र की आलोचना की।

-अखिलेश ने कहा कि पूरी यूपी में चल रही एंबुलेंस सेवा 102 और 108 में केंद्र सरकार का सहयोग नहीं मिल रहा है।

-उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने सहयोग देने के बदले में योजना से समाजवादी शब्द हटाने को कहा था जो राज्य सरकार को मंजूर नहीं था ।

भ्रष्टाचार से मिल के लड़ना होगा

-अखिलेश यादव ने माना कि सरकार के सभी विभागों खासकर उद्योग में भ्रष्टाचार है।

-सीएम ने माना कि इंडस्ट्री को एनओसी देने में भ्रष्टाचार का बोलबाला है, लेकिन सरकार ने इससे निपटने का रास्ता निकाला है।

-सरकार ने कह दिया है, कि अगर संबंधित विभाग 15 दिन में एनओसी नहीं दें, तो एनओसी अपने आप मंजूर मान ली जाएगी।

-उन्होंनें स्वीकार किया कि लोहिया आवास कुछ अपात्रों को भी मिल गया है। इसीतरह 55 लाख महिलाओं को दी जा रही समाजवादी पेंशन में भी कुछ अपात्र शामिल हो गए हैं ।

-सीएम ने कहा कि जल्द ही डायल 100 सेवा शुरु की जाएगी जिसमें दस मिनट में पुलिस घटनास्थल पर पहुंच जाएगी।

Sanjay Bhatnagar

Sanjay Bhatnagar

Writer is a bi-lingual journalist with experience of about three decades in print media before switching over to digital media. He is a political commentator and covered many political events in India and abroad.

Next Story