Top

UP सरकार गुड गवर्नेंस का देगी संदेश, CM अब पाती भेजकर कहेंगे मन की बात

Admin

AdminBy Admin

Published on 8 April 2016 3:43 AM GMT

UP सरकार गुड गवर्नेंस का देगी संदेश, CM अब पाती भेजकर कहेंगे मन की बात
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

Raj Kumar Raj Kumar

लखनऊ: विधानसभा चुनाव 2017 के पहले अखिलेश सरकार पूरी तरह चुनावी मोड़ में आ गई है। इसलिए आम जनता को गुड गवर्नेंस का संदेश देने के लिए अब पत्रों का सहारा लिया जा रहा है। इसके जरिए अखिलेश जनता से अपने मन की बात कहेंगे। पत्र भी उन लोगों को लिखा जा रहा है ​जिन्हें सरकार की योजनाओं का लाभ मिल चुका है।

25 से 30 हजार लोगों को भेजा जा रहा पत्र

सीएम अखिलेश यादव की तरफ से यह पत्र उन 25 से 30 हजार लोगों को भेजा जा रहा है। जिन्हें इलाज के लिए सरकार की तरफ से सहायता उपलब्ध कराई गई है। कहा जा रहा है कि इन पत्रों से सीएम अखिलेश का जनता से सीधे जुड़ाव होगा।

ये भी पढ़ें...पंचायतों को ​मिलते हैं करोड़ों, पर नहीं मिलता हिसाब, शासन में दबी जांच

पत्र में क्या है

सूत्रों के अनुसार सीएम अखिलेश यादव की तरफ से भेजे गए पत्र के जरिए सरकार के फैसलों के बारे में लोगों को बताया जाएगा। उन्हें सरकार की तरफ से दी गई सुविधाओं के बारे में जागरूक किया जाएगा। पत्र भेजे जाने का अप्रूवल भी पंचम तल से प्राप्त हो चुका है।

इलाज के लिए 135 करोड़ खर्चे

सपा सरकार बनते ही सीएम अखिलेश यादव ने मुफ्त दवाई और मुफ्त पढ़ाई पर जोर दिया। उन्होंने निर्धन वर्ग के लोगों की गंभीर बीमारियों के फ्री इलाज की व्यवस्था की। विधायक भी अपनी निधि से किसी निर्धन व्यक्ति के इलाज के लिए धन दे सकते हैं। सरकारी आंकड़ों के मुताबिक प्रदेश में इससे लाभान्वित लोगों की संख्या काफी अधिक है। मौजूदा वर्ष में इसमें करीबन 135 करोड़ रुपए का खर्च आया है।

ग्राम प्रधानों और टीचरों को भी भेज चुके हैं पत्र

इसके पहले ग्राम प्रधानों और टीचरों को भी सीएम अखिलेश का पत्र भेजा जा चुका है। सीएम अखिलेश ने नव निर्वाचित ग्राम प्रधानों को लिखी चिट्ठी में अपनी सरकार की तमाम योजनाओं का जिक्र करते हुए उन्हें ग्राम पंचायत स्तर पर लागू करने के नुस्खे बताए थे। टीचरों को भी चिट्ठी लिखकर अखिलेश ने साक्षरता अभियान को गति देने की बात कही थी।

Admin

Admin

Next Story