×

UP: योगी के स्वास्थ्य मंत्री पर बिफरे अखिलेश, कहा- अस्पतालों का दौरा ही नहीं, बजट का भी करें इंतजाम

Akhilesh Yadav : सपा के मुखिया बोले, कि 'स्वास्थ्य मंत्री को सिर्फ अस्पतालों का दौरा नहीं करना चाहिए, बल्कि वहां की व्यवस्था को ठीक करने पर ध्यान देना होगा।'

aman
Updated on: 2022-05-02T19:39:21+05:30
UP Politics: नेता प्रतिपक्ष अखिलेश यादव की सदन होगी परीक्षा!
X

अखिलेश यादव (फाइल फोटो) 

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Akhilesh Yadav Attacks on Brajesh Pathak : समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के अध्यक्ष और यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने योगी सरकार के स्वास्थ्य मंत्री ब्रजेश पाठक (Brajesh Pathak) पर हमला बोला। सपा के मुखिया बोले, कि 'स्वास्थ्य मंत्री को सिर्फ अस्पतालों का दौरा नहीं करना चाहिए, बल्कि वहां की व्यवस्था को ठीक करने पर ध्यान देना होगा। अखिलेश ने कहा, अस्पतालों में बेहतर स्वास्थ्य व्यवस्था के लिए सरकार को बजट का प्रबंध करना चाहिए।'

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने ये बातें सोमवार को लखनऊ के मोहनलालगंज (Mohanlalganj) के नगराम में पूर्व जिलाध्यक्ष व लोकतंत्र सेनानी रहे राम स्वरूप यादव की मूर्ति के अनावरण के दौरान कही। बता दें कि, राम स्वरूप यादव का निधन कोरोना काल में हुआ था। गौरतलब है कि अखिलेश यादव प्रदेश सरकार की लगातार आलोचना करते रहे हैं, मगर आज उनके निशाने पर स्वास्थ्य मंत्री ब्रजेश पाठक रहे।

..तो अन्य अस्पतालों का हाल क्या होगा?

अखिलेश यादव ने योगी 2.0 में स्वास्थ्य व्यवस्था पर सवाल उठाए। सपा प्रमुख ने कहा, कि 'अगर लखनऊ के अस्पतालों जैसे- केजीएमयू (KGMU), डॉ. राम मनोहर लोहिया संस्थान, सिविल अस्पताल और बलरामपुर के लिए बजट नहीं होगा, तो प्रदेश के दूसरे अस्पतालों का क्या हाल होगा? उन्होंने कहा, पहले मुख्यमंत्री और स्वास्थ्य मंत्री को अस्पतालों को बजट देना चाहिए तब जाकर बीमार लोगों को बेहतर इलाज मिल सकेगा।' इसलिए अस्पतालों के दौरे से पहले बजट का इंतजाम करें।

बिजली संकट पर भी भड़के

अखिलेश यादव यहीं नहीं रुके। उन्होंने उत्तर प्रदेश में व्याप्त बिजली संकट पर भी सवाल खड़े किए। अखिलेश ने कहा, 'भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने विधानसभा चुनाव के दौरान कहा था, कि किसानों को अगले पांच साल बिजली बिल नहीं देना पड़ेगा। मगर, चुनाव बाद कह रहे हैं कि हर एक उपभोक्ता भुगतान करे, तभी आपूर्ति होगी।' उन्होंने कहा बीजेपी चुनावी वादे से पलट रही है।

योगी सरकार से पूछे तीखे सवाल

सपा सुप्रीमो आगे कहते हैं, 'बीजेपी सरकार बताए कि समाजवादी पार्टी के समय में बिजली की जो उत्पादन क्षमता बढ़ी थी, उसमें इस सरकार ने कोई बढ़ोतरी क्यों नहीं की? प्रदेश की जनता पर बिजली संकट क्यों थोपा जा रहा है।'

बिजली संकट: बीजेपी सरकार पर बरसे अखिलेश

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा, कि राज्य की जनता बदलाव और नई सरकार चाहती थी। चुनाव परिणाम आने के बाद जनता के साथ चुनावी एक्सपर्ट भी हैरान थे। इससे जनता में तो घोर निराशा है। सरकार में आने के बाद भी भाजपाइयों के चेहरे बुझे हुए हैं। अखिलेश यादव ने कहा कि बीजेपी जातिवादी पार्टी है। भाजपा की सरकार में केंद्र से राज्य तक जातिवाद की भरमार है। भाजपा की सरकार भ्रष्टतम है।

बीजेपी ने एक यूनिट बिजली नहीं बनाई

अखिलेश यादव ने बढ़ती गर्मी की चर्चा करते हुए कहा, कि '50 डिग्री तक तापमान पहुंच सकता है। प्रदेश में बिजली संकट है क्योंकि पिछले पांच सालों में भाजपा ने एक यूनिट बिजली नहीं बनाई। बिजली के गलत बिलों के साथ महंगी बिजली मिल रही है। भाजपा राज में हजारों करोड़ों रुपए की बिजली खरीदनी पड़ रही है।'

'गंगा साफ नहीं हुई'

सपा अध्यक्ष ने कहा भाजपा सरकार में गंगा साफ नहीं हुई। मां गंगा को पता है कि भाजपा पिछला बजट डकार चुकी है। स्वास्थ्य मंत्री अस्पतालों में घूम-घूमकर खुद को शर्मिंदा होने की बात कह रहे हैं। पांच वर्ष की भाजपा सरकार ही शर्मिंदगी है। भाजपा सरकार में किसी नौजवान को नौकरी नहीं मिली। सरकार कुछ कारखाने बेचती जा रही है। कुछ पुराने कारखाने बन्द है। सरकार की सभी संपत्तियां बेची जा रही है। पांच साल में कोई बड़ा कारखाना नहीं लगा।

सरकार नहीं बाजार के कारण मिल रही बढ़ी कीमत

अखिलेश यादव ने कहा, 'किसान भाइयों को सरकार से नहीं बल्कि बाजार के चलते फसल की बढ़ी कीमत मिल रही। बीजेपी से जुड़े उद्योगपति गेंहू खरीद रहे है। सूजी, बेसन, मैदा के साथ पैक्ड आटा महंगा होगा। हटाये गए लाउडस्पीकर तो गिन रहे हैं, लेकिन वे गिनती करके बताएं कि सरकार ने कितनो को नौकरियां दी हैं। हर तरह की ताकतें समाजवादियों के पीछे पड़ी है।'

आखिर कब करेगी बिल माफ़?

अखिलेश यादव बोले, कि सरकार बताए किसानों का बिल माफ कर कब अपना वादा पूरा करेगी? भाजपा सरकार और विभाग ने अगर तैयारी की होती तो लगातार बिजली दे सकते थे। ये सरकार सपा सरकार में हुए बिजली उत्पादन को आगे नही बढ़ा सकी। समाजवादी सरकार में जो बिजली घर लगे थे उसी से अब तक बिजली मिल रही है। जब लखनऊ-दिल्ली दोनों में सरकार है, तो बिजली क्यो नही मिल रही?

aman

aman

Next Story