×

LLB छात्र हत्याकांड: सुलतानपुर से एक धरा, 20 लाख आर्थिक मदद का ऐलान

aman

amanBy aman

Published on 13 Feb 2018 3:03 AM GMT

LLB छात्र हत्याकांड: सुलतानपुर से एक धरा, 20 लाख आर्थिक मदद का ऐलान
X
LLB छात्र हत्याकांड में सुलतानपुर से एक आरोपी गिरफ्तार, अन्य की तलाश
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

लखनऊ/सुल्तानपुर: बीते 9 फरवरी को एलएलबी छात्र के मर्डर केस में कूरेभार थाना क्षेत्र के एक आरोपित को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। हत्याकांड में एक टीईटी सहित दो मुख्य आरोपित कूरेभार थाना क्षेत्र के रहने वाले हैं।

वहीं, दूसरी तरफ योगी सरकार ने मृतक के परिजनों को 20 लाख रुपए मुआवजा देने की घोषणा की है। इससे पहले सोमवार को विधानसभा और विधान परिषद में भी इस हत्याकांड की गूंज सुनाई दी थी।

एलएलबी छात्र हत्याकांड मामले में इलाहाबाद पुलिस ने रविवार रात व सोमवार दोपहर बाद कूरेभार क्षेत्र के अलग-अलग गांवों में स्थानीय थाना पुलिस की मदद से दबिश दी। कूरेभार थाना के सेमरौना गांव निवासी टीईटी विजय शंकर के यहां पुलिस ने छापा मारा। लेकिन वह मौके से फरार हो गया। इसके बाद सोमवार को इसी थाना क्षेत्र के अतरसुमा गांव में दबिश देकर पुलिस ने राम उजागिर मौर्य को गिरफ्तार कर लिया। उसे इलाहाबाद पुलिस अपने साथ ले गई। पुलिस की मानें, तो अभी अन्य की तलाश जारी है।

बता दें, कि फरवरी को इलाहाबाद जिले के कर्नलगंज थाना क्षेत्र के एक रेस्टोरेंट में एलएलबी छात्र दिलीप की निर्ममता से पीट-पीट कर हत्या कर दी गई थी। इस मामले में इन दोनों को आरोपित बनाया गया था। इनके साथ और लोग भी थे। वारदात की सीसीटीवी फुटेज भी उपलब्ध करा ली गई थी।

aman

aman

अमन कुमार, सात सालों से पत्रकारिता कर रहे हैं। New Delhi Ymca में जर्नलिज्म की पढ़ाई के दौरान ही ये 'कृषि जागरण' पत्रिका से जुड़े। इस दौरान इनके कई लेख राष्ट्रीय, अंतरराष्ट्रीय और कृषि से जुड़े मुद्दों पर छप चुके हैं। बाद में ये आकाशवाणी दिल्ली से जुड़े। इस दौरान ये फीचर यूनिट का हिस्सा बने और कई रेडियो फीचर पर टीम वर्क किया। फिर इन्होंने नई पारी की शुरुआत 'इंडिया न्यूज़' ग्रुप से की। यहां इन्होंने दैनिक समाचार पत्र 'आज समाज' के लिए हरियाणा, दिल्ली और जनरल डेस्क पर काम किया। इस दौरान इनके कई व्यंग्यात्मक लेख संपादकीय पन्ने पर छपते रहे। करीब दो सालों से वेब पोर्टल से जुड़े हैं।

Next Story