Top

अमर ने कहा- अमिताभ से नहीं, जया से है मेरी लड़ाई, PM को बताया ईमानदार

Admin

AdminBy Admin

Published on 30 April 2016 4:17 AM GMT

अमर ने कहा- अमिताभ से नहीं, जया से है मेरी लड़ाई, PM को बताया ईमानदार
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

बरेली: बच्चन परिवार के कभी करीबी कहे जाने वाले अमर सिंह ने कहा कि अमिताभ से उनकी लड़ाई नहीं, बल्कि जया बच्चन से है। जया की करतूतों के लिए अमिताभ ने तो उनसे पहले ही माफी मांग ली थी। हालांकि, उन्होंने यह नहीं बताया कि जया से उनकी लड़ाई किस बात को लेकर है।

अमर सिंह ने पीएम मोदी की भी जमकर तारीफ की। उन्होंने कहा कि न तो देश कांग्रेस मुक्त होगा और न ही आरएसएस मुक्त। अगर मुझे मोहन भागवत से मिलने का मौका मिला तो उनसे जरूर मिलूंगा।

यह भी पढ़ें... रिसेप्शन में रिश्‍तों की रिपेयरिंग, अमर ने एक तीर से लगाए दो निशाने

अमर ने क्या कहा ?

-अमर सिंह शुक्रवार को मुफ्ती-ए-आजम हिंद के नाम से बन रहे चेरिटेबल हॉस्पिटल के शिलान्यास में बरेली आए थे।

-उन्‍होंने कहा- मेरे लिए अभिषेक बच्चन और ऐश्वर्या बेटे-बहू की तरह हैं।

-मेरी लड़ाई तो जया बच्चन से है। अमिताभ से कोई गिला नहीं।

-मैं अब आगे से अमिताभ के बारे में कोई भी जवाब नहीं दिया करूंगा।

अमर ने पीएम के बारे में क्‍या कहा ?

-मोदी को मैं ईमानदार आदमी मानता हूं, लेकिन देश के लोगों को इसलिए निराशा है क्योंकि उनको मोदी से ढेर सारी उम्मीदें थीं, जो अब तक पूरी नहीं हो सकी हैं।

-मोदी के भाई क्लर्क हैं और मां के साथ आज भी एक छोटे से घर में रहते हैं।

-अपोजिशन को आज तक मोदी के खिलाफ सिर्फ 10 लाख के सूट का मुद्दा ही मिल सका है।

-पूर्व सपा नेता ने कहा कि मोदी जितने अच्छा काम करते हैं, बीजेपी के कुछ नेता फिजूल बयान देकर उनके लिए परेशानी पैदा कर देते हैं।

-सिंह ने कहा कि यह नहीं भूलना चाहिए कि मोदी को मुस्लिमों ने भी वोट दिए हैं।

आरएसएस प्रमुख से मिलने की तमन्ना

-अगर कभी आरएसएस के चीफ मोहन भागवत से मुलाकात हुई तो मैं उनसे जरूर मिलूंगा।

-भारत कभी कांग्रेस या आरएसएस मुक्त नहीं हो सकता, क्योंकि ये दोनों यहीं रहने वाले हैं।

एक इंटरव्‍यू में अमिताभ से रिश्ते पर अमर ने कहा था

-हमारे बीच दरार उस वक्त आई, जब अनिल अंबानी के घर पर अमिताभ बच्चन ने मुझ पर आरोप लगाया कि मेरी वजह से सहारा बोर्ड से उनके परिवार की छुट्टी हुई।

-उन्होंने बच्चन को सहारा के बिजनेस को लेकर सुझाव दिया कि कभी उस कार में मत बैठें, जिसके बारे में आप यह न जानें कि उसका ड्राइवर कौन है?

-अगर मैंने उन्हें चेतावनी नहीं दी होती तो उनका पूरा परिवार सहारा के बोर्ड में शामिल होता और आज दूसरों की तरह ही जेल में होता।

-वह आज पद्म विभूषण और पीएम के साथ सेल्फी नहीं ले रहे होते और न ही गिर के जंगलों को प्रमोट कर रहे होते।

जया को सपा में लाए थे अमर

- अमिताभ ने मुझे अपनी बर्थ-डे पार्टी पर नहीं बुलाया था। उनके स्पॉट ब्वॉयज तक को बुलाया गया, लेकिन मुझे नहीं।

-जया बच्चन को समाजवादी पार्टी में लाने का क्रेडिट अमर सिंह को जाता है। जया अभी राज्यसभा सदस्य हैं।

-एक समय अमर सिंह बच्चन परिवार के काफी करीबी माने जाते थे।

-कुछ साल पहले अमिताभ को अपना बड़ा भाई कहने वाले अमर सिंह और बच्चन परिवार में दूरियां आ गई थीं। ये सिलसिला अब तक जारी है।

Admin

Admin

Next Story