Top

अंबेडकरनगर: BJP नेता पर लाखों की धोखाधड़ी का आरोप, जानें पूरा मामला

भाजपा नेता अभिमन्यु अग्रहरि व उनके शागिर्दाें ने प्रदेश कई जनपदों में हजारों लोगों से अरबों रूपये की धोखाधड़ी कर ली है।

Ashiki Patel

Ashiki PatelPublished By Ashiki PatelManish MishraReport Manish Mishra

Published on 7 April 2021 3:38 PM GMT

bjp leader
X

FIR Copy 

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

अम्बेडकरनगर: एक तरफ भारतीय जनता पार्टी की सरकार भ्रष्टाचारियों के विरूद्ध पूरे प्रदेश में कड़ी कार्यवाही कर रही है तो वहीं दूसरी तरफ जनता की गाढ़ी कमाई को लूटने वाले एक भाजपा नेता पर जिले के साथ-साथ पड़ोसी जिले की खाकी भी रहमदिल बनी हुई है। कटेहरी विधानसभा क्षेत्र के चर्चित भाजपा नेताओं में शुमार अभिमन्यु अग्रहरि व उनके शागिर्दाें की गिरफ्तारी न होना जनसामान्य में चर्चा का विषय बना हुआ है।

ये है आरोप

इस प्रकरण की शिकायत अब मुख्यमंत्री के दरबार में भी पंहुच चुकी है। मामला जनसमृद्धि एग्रो प्रोड्यूसर कम्पनी लिमिटेड व सहायक कम्पनी जनसंकल्प हितनिधि लिमिटेड शाखा गोशांईगंज व अम्बेडकरनगर द्वारा ठगी व फ्राड कर लाखों रूपया गबन करने से सम्बन्धित है। रवि बाबू जायसवाल, गोविन्द गुप्ता, धनंजय गुप्ता, विजय प्रकाश गुप्ता द्वारा दर्ज कराई गई प्राथमिकी में कहा गया है कि अम्बेडकरनगर के शाखा प्रभारी अभिमन्यु अग्रहरि व कम्पनी के डायरेक्टरों विकास श्रीवास्तव, शोएब काजमी निवासी राजाजीपुरम लखनऊ तथा विशाखा घूसिया आदि द्वारा उक्त कम्पनियों के माध्यम से विभिन्न योजनाओं में धनराशि जमा कर भुगतान के पूर्व ही गोशाईंगंज शाखा को बन्द कर दिया गया।

इसके उपरान्त जब उन सबने अभिमन्यु अग्रहरि से जानकारी ली तो उन्होंने बताया कि समस्त भुगतान अम्बेडकरनगर की शाखा से होगा। इसके बाद उन सबको अम्बेडकरनगर तक कई बार दौड़ाया गया तथा जब उन्होनें विरोध किया तो उन्हें धमकी देते हुए भगा दिया गया। उनकी परिपक्वता स्कीमों के धन को बिना उनकी सहमति के ही विभिन्न प्लानों में फिक्स कर बान्ड भेज दिया गया है। पीड़ितों का आरोप है कि उनका लाखों रूपये का गबन कर लिया गया है।

इसके साथ ही इन सबने प्रदेश कई जनपदों में हजारों लोगों से अरबों रूपये की धोखाधड़ी कर ली है। इनका एक संगठित गिरोह है। गोशाईगंज थाने में चार फरवरी को दर्ज हुए मुकदमें के बावजूद आरोपी अभी तक पुलिस की कृपा से टहल रहे हैं। उनके विरूद्ध अभी तक कोई कार्यवाही न होना पुलिस की कार्यप्रणाली को उजागर करता है। पीड़ित ने एक अप्रैल को अहिरौली थाने में भी प्राथमिकी दर्ज करने के लिए आनलाइन तहरीर दी है।

Ashiki

Ashiki

Next Story