Top

UP पुलिस ने अमित शाह -आजम खान को बताया बवाली, जानिए क्या है वजह

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 29 July 2016 5:17 PM GMT

UP पुलिस ने अमित शाह -आजम खान को बताया बवाली, जानिए क्या है वजह
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

मेरठ: यूपी पुलिस ने चुनाव में गड़बड़ी फैलाने वाले संभावित लोगों में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह और अखिलेश सरकार के कैबिनेट मंत्री आजम खान का भी नाम शामिल किया है। शामली पुलिस ने ये लिस्ट इलेक्शन कमीशन के आदेश पर बनाई है।

लिस्ट में और किनका नाम

इस लिस्ट में कुल 46 लोगों का नाम है। अमित शाह और आजम खान के अलावा भी इसमें कई बड़े नाम हैं। कैराना के सपा विधायक नाहिद हसन, कांग्रेस के पूर्व सांसद हरेंद्र मलिक, एमएलसी विरेंद्र सिंह और राष्ट्रीय लोक दल के करतार सिंह भड़ाना को भी इस लिस्ट में जगह मिली है।

क्यों आया इनका नाम

दरअसल, इलेक्शन कमीशन ने यूपी के सभी जिला प्रशासन को ऐसे लोगों की लिस्ट तैयार करने को कहा है जिनके खिलाफ 2012 के विधानसभा चुनाव और 2014 लोकसभा चुनाव में केस दर्ज किए गए थे। इलेक्शन कमीशन के एक अधिकारी के मुताबिक, 2017 चुनाव के लिए कोई रिस्क नहीं लिया जा सकता। इसलिए ऐसे नेताओं की लिस्ट तैयार की गई है, जो अपने भड़काऊ भाषण से माहौल बिगाड़ सकते हैं। जिला प्रशासन ने ऐसे लोगों को इसमें शामिल किया है जिन्होंने पहले ऐसा भाषण दिया था।

अमित शाह और आजम खान पर दर्ज हुआ था केस

2014 लोकसभा चुनाव प्रचार के दौरान पुलिस ने अमित शाह पर जनप्रतिनिधि कानून की धारा 125( चुनाव के लिए दो वर्गों के बीच दुश्मनी पैदा करना) के तहत केस दर्ज किया था। इसके तहत दोषी पाए जाने पर तीन साल की जेल या जुर्माने की सजा हो सकती है। इसी दौरान आजम खान के खिलाफ आईपीसी की धारा 153 ए (धर्म, जाति और भाषा के आधार पर दो वर्गों में दुश्मनी पैदा करना), 295ए (जानबूझकर ऐसा काम करना जिससे किसी की धार्मिक भावनाएं आहत हो) और 505 (नुकसान के लिए लोगों को उकसाना) के तहत केस दर्ज किया था।

Newstrack

Newstrack

Next Story