×

Lakhimpur Kheri News: बकरी चराने खेत में गई बच्ची के गले में घुसी सरिया, लम्बे ऑपरेशन के बाद डॉक्टरों ने निकाला

Lakhimpur Kheri News: उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी जिले के थाना नीमगांव क्षेत्र के भूलनपुर गांव में बकरी चराने के लिए खेतों में गई बच्ची के गले में सरिया घुस गई।

Himanshu Srivastava
Updated on: 4 Oct 2022 2:57 AM GMT
The baria entered the neck of the girl who went to the goat grazing field, after a long operation, the doctors removed it
X

  लखीमपुर खीरी: बकरी चराने खेत में गई बच्ची के गले में घुसी सरिया, लम्बे ऑपरेशन के बाद डॉक्टरों ने निकाला

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Lakhimpur Kheri News: उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी जिले के थाना नीमगांव क्षेत्र (Police Station Neemgaon Area) के भूलनपुर गांव में भूलनपुर निवासी इसरार की तैयबा नाम की बच्ची बकरी चराने के लिए खेतों में गई हुई थी वहीं खेतों पर और भी बच्चे खेल रहे थे, तैयबा भी वहीं बच्चों के साथ खेलने लगी। खेलते खेलते मकान बन रहे एक प्लाट में पहुंची जहां उसके गले में सरिया घुस गई। प्लाट में काम कर रहा गांव का एक व्यक्ति भागता हुआ बच्ची के पिता इसरार के पास पहुंचा और बताया कि उसकी बेटी के गले में सरिया घुस गई है।

घटना के बारे में सुनकर बच्ची का पिता दौड़ता हुआ अपनी बेटी के पास पहुंच गया, उसी दौरान किसी ग्रामीणों ने एंबुलेंस को पर कॉल कर दिया था। थोड़ी ही देर में एंबुलेंस पहुंच गई। पिता अपनी बेटी को लेकर जिला अस्पताल पहुंच गया।

तीन घंटे ऑपरेशन के बाद बच्ची के गले से सरिया निकाला गया

बच्ची के पिता ने बताया कि जब मैं अपनी बेटी के पास पहुंचा तो वहां दर्द से तड़प रही थी, उसके पास पहुंचा उसे गोदी में उठा कर घर ले आया इसी बीच एंबुलेंस आ गई बेटी पूरे रास्ते तड़पती रही और दर्द से चिल्लाती रही। हम लोग अस्पताल पहुंचे और लगभग दो से तीन घंटे के बाद बच्ची के गले से सरिया निकाला गया। फिलहाल अभी बच्ची स्वस्थ है और डॉक्टर उसकी देखरेख कर रहे हैं।

गले में घुसकर सरिया मुंह से निकली गई थी

आपको बताते चलें कि खेत में प्लाटिंग हो रही थी, बच्चे वहां पर खेल रहे थे खेलते-खेलते तैयब गिर पड़ी गिरने से उसका पैर सरिया पर पड़ा और वह सीधा होकर उसके गले में घुस गई। गले में घुसकर सरिया मुंह से निकली गई। सरिया की लंबाई 3 फुट बताई जा रही है। जिसके बाद परिजन बच्ची को लेकर जिला अस्पताल पहुंचे।

जिला अस्पताल में इमरजेंसी मेडिकल ऑफिसर की सूचना पर सर्जन डॉक्टर राजकुमार कोहली मौके पर पहुंचे, 2 से 3 घंटे ऑपरेशन के बाद उन्होंने बच्ची के गले में फंसी सरिया को निकाल दिया।

Shashi kant gautam

Shashi kant gautam

Next Story