Top

HC : प्रमुख सचिव को निर्देश, आंगनबाड़ी वर्करों के मानदेय पर करें विचार

By

Published on 2 Aug 2016 4:04 PM GMT

HC : प्रमुख सचिव को निर्देश, आंगनबाड़ी वर्करों के मानदेय पर करें विचार
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

इलाहाबाद: यूपी के आंगनबाड़ी केंद्रों में काम कर रही एक लाख से अधिक वर्कर का मानदेय बढ़ सकता है। वर्करों द्वारा दाखिल जनहित याचिका पर सुनवाई करते हुए हाईकोर्ट ने प्रमुख सचिव, महिला एवं बाल विकास को वेतन बढ़ाने के संबंध में विचार करने का निर्देश दिया है। याचिका यूपी स्टेट आंगनबाड़ी इम्प्लाइज एसोसिएशन की ओर से दाखिल की गई है। इस पर न्यायमूर्ति वीके ­शुक्ला और एम­सी ­त्रिपाठी की खंडपीठ ने सुनवाई की।

मानदेय बढ़ाने की मांग की

याचिका में कहा गया है कि यूपी में आंगनबाड़ी वर्करों का मानदेय काफी कम है। इसकी तुलना में अन्य प्रदेशों में स्थिति काफी बेहतर है। अन्य राज्यों में इतना पैसा मिलता है कि आंगनबाड़ी वर्कर अपने परिवार का भरण-पोषण कर लेती हैं। जबकि यूपी में मानदेय काफी कम होने से भरण-पोषण में मुश्किल होती है।

कोर्ट ने दिए प्रमुख सचिव को निर्देश

कोर्ट ने प्रमुख सचिव को निर्देश दिया है कि वह यूपी में काम कर रही आंगनबाड़ी वर्करों की इस मांग को अन्य प्रांतों में दिए जा रहे मानदेय की तुलना में बढ़ाने पर विचार करें।

Next Story