इस जिले में दस पेड़ लगाने पर ही कर पाएंगे शस्त्र लाइसेंस के लिए आवेदन

प्रकृति के प्रेमी जिलाधिकारी ने प्रकृति को हराभरा करने की सोच के साथ प्रत्येक लाइसेंस आवेदन कर्ता को दस- दस पेड़ लगाकर आवेदन प्रार्थना पत्र के साथ सेल्फी फोटो लगाने का आदेेश जारी किया है।

कासगंज: कासगंज जिलाधिकारी चंद्रप्रकाश सिंह की एक औरअनोखी पहल की चर्चाए सामने आ रही हैं। दरअसल यूपी और बिहार जैसे बड़े राज्यों में हथियारों की होड़ कोई नई बात नहीं है जिसके चलते जिला कलेक्टर के ऑफिस में शस्त्र लाइसेंस के लिए आवेदकों की एक लंबी लाइन देखी जा सकती है।

ये भी पढ़ें…कासगंज हिंसा पर योगी के मंत्री बोले- ऐसी छोटी-मोटी घटनाएं होती रहती हैं

10-10 पेड़ लगाने पर ही मिलेगा लायसेंस

विशेष रूप से एटा कासगंज में हथियारों की होड़ दूसरे जनपदों से ज्यादा है, लेकिन यह कोई खास बात नहीं है। खास बात यह है जो हम आपको बताने जा रहे है।

प्रकृति के प्रेमी जिलाधिकारी ने प्रकृति को हराभरा करने की सोच के साथ प्रत्येक लाइसेंस आवेदन कर्ता को दस- दस पेड़ लगाकर आवेदन प्रार्थना पत्र के साथ सेल्फी फोटो लगाने का आदेेश जारी किया है।

यह आदेश शस़्त्र लाइसेंस इच्छुक कर्ताओ में पौधा लगाने की होड़ सी लगी हुई, जो पौधा लगाकर जिलाधिकारी के समक्ष अपनी सेल्फी फोटो के साथ जिओ टेकिंग कर प्रार्थना पत्र प्रस्तुत करता है, तो जिलाधिकारी उसे वारिसाना लाइसेंस करने पर विचार विर्मश करते हैं, जो लोग पौधा लगाकर नहीं आते हैं, तो उन्हें वापस कर देते हैं, और पौधा लगाने की सलाह देते हैं।

ये भी पढ़ें…कासगंज हिंसा: SP ने कहा- मीडियाकर्मी ने दिलवाया था धमकी वाला बयान

ऐसे आया आइडिया

बरहाल डीएम की इस अनूठी पहल की हर कोई तारीफ कर रहा है लाइसेंस के आवेदकों के द्वारा खासा रिस्पॉन्स दिया जा रहा है।खुद डीएम कासगंज का कहना है कि कासगंज मै प्राय शस्त्र लाइसेंस के लिए उनके कार्यालय पर आवेदकों की लंबी लंबी लाइन लगी रहती है। इसे देख कर ही उनके मन में यह विचार आया कि क्यों न हम आवेदकों से दस दस पेड़ लगवाए।

ये भी पढ़ें…कासगंज : मुद्दा सिर्फ और सिर्फ समाज शास्त्र का है, कानून व्यवस्था का नहीं

प्रकृति को संवारने में मिलेगी मदद

जिससे लाइसेंस मिलने के साथ साथ हम कासगंज को हरा भरा कर सकते है।क्योंकि जिस तरह पेड़ों पर कुल्हाड़ी चलाई जा रही है और नए पेड़ लगाने के लिए लोग उदासीन है जिसके परिणाम हमारे सामने है। लेकिन शस्त्र पाने की शर्त के चलते आवेदक अगर दस पेड़ लगाएगा तो जल्द ही प्रकृति को सजाया संवारा जा सकता है।