×

JDU के पूर्व महासचिव का खुलासा- नीतीश ने इस तरह शरद को हटाया अध्यक्ष पद से

aman

amanBy aman

Published on 14 Aug 2017 10:54 AM GMT

JDU के पूर्व महासचिव का खुलासा- नीतीश ने इस तरह शरद को हटाया अध्यक्ष पद से
X
JDU के पूर्व महासचिव का खुलासा- नीतीश ने इस तरह शरद को हटाया अध्यक्ष पद से
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

लखनऊ: जनतादल यू (जेडीयू) के महासचिव पद से हटाए गए अरुण कुमार श्रीवास्तव का कहना है कि बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने धोखे से शरद यादव को अध्यक्ष पद से हटाया था।

अरुण कुमार ने सोमवार (14 अगस्त) को यहां संवाददताओं से कहा, कि करीब छह महीने पहले नीतीश कुमार ने शरद यादव से कहा, कि अजित सिंह अपनी पार्टी राष्ट्रीय लोकदल का जनतादल यू में विलय करना चाहते हैं। इसके अलावा झारखंड विकास मोर्चा के अध्यक्ष बाबू लाल मरांडी भी जदयू में शामिल होना चाहते हैं लेकिन उनकी शर्त ये है कि वो बात सिर्फ बात नीतीश कुमार से ही करेंगे। शरद यादव ने पार्टी के विस्तार के लिए अध्यक्ष पद से हटना मंजूर कर लिया और अध्यक्ष पद नीतीश कुमार को दे दिया।

ये भी पढ़ें ...JDU ने की बड़ी कार्रवाई- पूर्व मंत्री-सांसद सहित 21 लोगों को किया सस्पेंड

नीतीश ने दिया धोखा

अरुण कुमार ने कहा, कि न तो रालोद का जदयू में विलय ​हुआ और न ही बाबू लाल मरांडी पार्टी में शामिल हुए। नीतिश कुमार को पार्टी का अध्यक्ष बने छह महीने हो गए हैं लेकिन उन्होंने एक बार भी पदाधिकारियों की बैठक नहीं बुलाई। मतलब, अध्यक्ष पद हासिल करने के लिए शरद यादव को धोखे से हटाया।

ये भी पढ़ें ...अब ‘असली’ JDU के लिए शह-मात का खेल शुरू, …तो ये है शरद के बगावत की वजह

aman

aman

अमन कुमार, सात सालों से पत्रकारिता कर रहे हैं। New Delhi Ymca में जर्नलिज्म की पढ़ाई के दौरान ही ये 'कृषि जागरण' पत्रिका से जुड़े। इस दौरान इनके कई लेख राष्ट्रीय, अंतरराष्ट्रीय और कृषि से जुड़े मुद्दों पर छप चुके हैं। बाद में ये आकाशवाणी दिल्ली से जुड़े। इस दौरान ये फीचर यूनिट का हिस्सा बने और कई रेडियो फीचर पर टीम वर्क किया। फिर इन्होंने नई पारी की शुरुआत 'इंडिया न्यूज़' ग्रुप से की। यहां इन्होंने दैनिक समाचार पत्र 'आज समाज' के लिए हरियाणा, दिल्ली और जनरल डेस्क पर काम किया। इस दौरान इनके कई व्यंग्यात्मक लेख संपादकीय पन्ने पर छपते रहे। करीब दो सालों से वेब पोर्टल से जुड़े हैं।

Next Story