×

Maharashtra: ओवैसी के भाई अकबरूद्दीन ने औरंगजेब की मजार पर चढ़ाया फूल, महाराष्ट्र में बवाल

Asaduddin Owaisi Brother: राम कदम ने कहा कि अचानक अकबरूद्दीन को ओऔरंगजेब की मजार पर क्यों जाना पड़ा ? उन्होंने कहा कि ओवैसी का मकसद हिंदू भाई बहनों की भावनाओं को ठेस पहुंचाने का था।

Krishna Chaudhary
Published on 13 May 2022 3:29 PM GMT
Asaduddin Owaisi brother Akbaruddin offered flowers at Aurangzeb tomb in Maharashtra
X

Asaduddin Owaisi brother Akbaruddin offered flowers at Aurangzeb tomb in Maharashtra 

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Aurangzeb tomb in Maharashtra: महाराष्ट्र की राजनीति में एकबार फिर उबाल आ गया है। दरअसल एआईएमआईम चीफ असदुद्दीन ओवैसी के छोटे भाई और विधायक अकबरूद्दीन ओवैसी ने औरंगाबाद स्थित मुगल शासक औरंगजेब की मजार पर जाकर फूल चढाई। उनके इस कदम पर विपक्षी बीजेपी और राज्य में सत्ताधारी महाविकास अघाड़ी सरकार की अगुवाई कर रही शिवसेना दोनों भड़क गई है। दोनों एआईएमआईम की मंशा पर सवाल उठाते हुए कहा कि जानबूझकर हिंदूओं की भावनाओं को नीचा दिखाने के लिए ये ऐसा किया गया है।

बीजेपी ने शिवसेना पर कसा तंज

बीजेपी की तरह सत्ताधारी शिवसेना भी इसका पुरजोर विरोध करते नजर आ रही है। लेकिन बीजेपी नेता राम कदम ने इस लेकर शिवसेना को घेरने की कोशिश की है। राम कदम ने कहा कि अचानक अकबरूद्दीन को ओऔरंगजेब की मजार पर क्यों जाना पड़ा ? उन्होंने कहा कि ओवैसी का मकसद हिंदू भाई बहनों की भावनाओं को ठेस पहुंचाने का था। हिंदूओं को नीचा दिखाने की यह एक सोची समझी साजिश थी। राम कदम ने शिवसेना पर तंज कसते हुए पूछा कि सरकार इस मामले में क्या करेगी, क्या अकबरूद्दीन पर राजद्रोह का मामला दर्ज होगा ?

शिवाजी के सैनिकों की बदनामी

पूर्व मुख्यमंत्री और मोदी सरकार में कैबिनेट मंत्री नारायण राणे के विधायक बेटे नीतेश राणे ने कहा कि अकबरूद्दीन ओवैसी ने औरंगजेब की कब्र पर जाकर शिवाजी के सैनिकों की बदनामी की है। उन्होंने इस दौरान बेहद आक्रमक बयान देते हुए कहा कि अगर अगर 10 मिनट के लिए पुलिस को हटा लिया जाए तो अकबरूद्दीन को औरंगजेब की कब्र के पास ही ला देंगे।

एआईएमआईम ने जुनियर ओवैसी का किया बचाव

अकबरूद्दीन ओवैसी के बचाव में एआईएमआईम सामने आई है। औरंगाबाद से पार्टी के सांसद इम्तियाज जलील ने कहा कि औरंगाबाद में कई बड़े लोगों की कब्र है, जिनमें से एक औरंगजेब की भी कब्र है। जो भी औरंगाबाद के खुलताबाद आता है वो औरंगजेब की कब्र पर जरूर जाता है। इसको अलग रंग न दिया जाए। सियासी जानकारों का मानना है कि एआईएमआईम ने लाउडस्पीकर, अजान, और हनुमान चालीसा के मुद्दे को देखते हुए जानबूझकर ये कदम उठाया है। ताकि आगामी बीएमसी चुनाव में फायदा उठाया जा सके।

Admin 2

Admin 2

Next Story