×

यूपी के माध्यिमक शिक्षा विभाग में बदले डायरेक्‍टर, अवध नरेश शर्मा को मिली कमान

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 7 Oct 2017 1:32 PM GMT

यूपी के माध्यिमक शिक्षा विभाग में बदले डायरेक्‍टर, अवध नरेश शर्मा को मिली कमान
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के माध्‍यमिक शिक्षा विभाग में काफी दिनों से निदेशक अमरनाथ वर्मा के हटने के कयास लगाए जा रहे थे।कई बार माध्‍यमिक शिक्षा निदेशक अमर नाथ वर्मा के हटने की अफवाहें भी उड़ीं लेकिन इस संबंध में कोई शासनादेश नहीं जारी हुआ। किंतु शनिवार को शासन ने इस संबंध में शासनादेश जारी कर दिया। इसके चलते अभी तक माध्‍‍यमिक शिक्षा के निदेशक रहे अमरनाथ वर्मा को प्रदेश के साक्षरता एवं वैकल्पिक शिक्षा के निदेशक का जिम्‍मा मिला है।

अवध नरेश शर्मा अब संभालेंगे कमान, अमरनाथ वर्मा की जांच शुरू

शासन के अनुभाग 13 ने माध्‍यमिक शिक्षा के निदेशक पद पर स्‍थानांतरण आदेश संख्‍या 1264/15-13-2017-4(3) जारी करते हुए अभी तक साक्षरता एवं वै‍कल्पिक शिक्षा के निदेशक का काम देख रहे अवध नरेश शर्मा को माध्‍यमिक शिक्षा विभाग का नया डायरेक्‍टर बनाया है।माध्‍यमिक शिक्षा विभाग के सूत्रों की मानें तो विभाग से अनुदानित कई रसूखदार विदयालय प्रबंधकों द्वारा मनमाने ढ़ग से फर्जी नियुक्तियां करने के मामले में जांच को धीमी गति से करने के चलते शासन ने अमरनाथ वर्मा को पद से स्‍थानांतरित किया है। निवर्तमान निदेशक अमरनाथ वर्मा की आय से अधिक संपत्‍ति मामले की जांच भी शुरू होने जा रही है।

माध्‍यमिक शिक्षक संघ ने कहा- कई मामलों को टरकाया गया था

माध्‍यमिक शिक्षक संघ के प्रदेशीय संरक्षक आर पी मिश्र ने कहा कि निवर्तमान निदेशक अमरनाथ वर्मा के कार्यकाल में कई अच्‍छे काम हुए। लेकिन इनके कार्यकाल में ही शिक्षक और विदयालय हित से जुड़े कई अहम काम पेंडिंग रहे। उम्‍मीद है कि नए निदेशक अवध नरेश शर्मा अहम पेंडिंग कामों को गति देंगे और त्‍वरित निस्‍तारण करेंगे।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story