×

Ambedkar Nagar News: विस्फोट से उड़ा मकान, दो हुए घायल, लाखों की संपत्ति जलकर राख

स्थानीय थाना क्षेत्र के जमोलीगंज बाजार में बुधवार को देर शाम हुए बम विस्फोट से पूरा मकान ध्वस्त हो गया। विस्फोट से लाखों की..

Manish Mishra
Published on 8 Sep 2021 4:31 PM GMT
House break by explosive
X

विस्फोट होने से ध्वस्त हुआ मकान

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Ambedkar Nagar News: अंबेडकरनगर स्थित जमोलीगंज बाजार में एक पटाखा बनाने वाले घर में विस्फोट होने से दो लोगों की घायल होने की खबर आ रही है। वहीं लाखों रुपए की संपत्ति जलकर राख होने की सूचना मिली है। बताया जाता है घर में पटाखे बनाने वाला विस्फोटक रखा हुआ था औऱ जिसमें किसी कारणवश विस्फोट हो गया, विस्फोट इतना शक्तिशाली था जिससे घर के दीवार भी ढह गए और घर के कई समान भी जलकर राख हो गए।


सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस


आपको बता दें कि स्थानीय थाना क्षेत्र के जमोलीगंज बाजार में बुधवार को देर शाम हुए बम विस्फोट से पूरा मकान ध्वस्त हो गया। विस्फोट से लाखों की संपत्ति का नुकसान हुआ और दो लोग घायल हो गये हैं। प्राप्त जानकारी के अनुसार सिध्दू उर्फ अब्दुल गफ्फार को उप जिला अधिकारी भीटी द्वारा पटाखा बनाने का लाइसेंस दिया गया था। वह जिस स्थान पर पटाखा बनाता है वह मकान बीचो-बीच गांव में बना हुआ है। इसी मकान में बुधवार देर शाम शक्तिशाली बम फटने से पूरा मकान ध्वस्त हो गया। विस्फोट में एक महिला व एक तीन वर्ष का बच्चा घायल हो गया जिसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

दूर तक सुनी गई विष्फोट की आवाज

विस्फोट की आवाज कई किलोमीटर दूर तक सुनी गई और लोग दहशत के आ गए। इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि बम कितना शक्तिशाली था जिसमें पूरा मकान बम से ध्वस्त हो गया। बम विस्फोट ने एक दशक पूर्व भीटी में हुए बम विस्फोट की यादें ताजा कर दी हैं। भीटी मे हुए बम विस्फोट में लाशें सौ सौ मीटर दूर मिली थी। उसमे चार लोगों की मौत हो गयी थी। घटना की सूचना पर मौके पर सीओ भीटी रुकमणी वर्मा व थानाध्यक्ष भीटी संजय पांडेय ने पहुंच कर घायलों को इलाज के लिए चिकित्सालय भिजवाया मौके पर पुलिस घटना की जांच कर रही है। क्षेत्र में दहशत व्याप्त है। स्थानीय लोगों के अनुसार एक व्यक्ति को मिले लाइसेंस की आड़ में कई अन्य लोग भी पटाखा बनाने का काम करते हैं। यह क्षेत्र काफी संवेदनशील बताया जाता है।

Deepak Raj

Deepak Raj

Next Story