×

Amethi News : अमेठी में पोस्ट मास्टर का परिवार हुआ भुखमरी का शिकार, नहीं मिली कोई सरकारी मदद

Amethi News : उत्तर प्रदेश के अमेठी में एक पोस्ट मास्टर का परिवार भुखमरी की कगार पर पहुंच गया है।

Surya Bhan Dwivedi

Surya Bhan DwivediReport Surya Bhan DwivediShraddhaPublished By Shraddha

Published on 26 July 2021 8:32 AM GMT

परिवार हुआ भुखमरी का शिकार,
X

परिवार हुआ भुखमरी का शिकार

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

Amethi News : उत्तर प्रदेश के अमेठी (Amethi) में एक पोस्ट मास्टर (post master) का परिवार भुखमरी की कगार पर पहुंच गया है। बेटा दिहाड़ी मजदूरी करता है़ और इससे परिवार की जीविका चल रही है। हैरान करने वाली बात ये है कि करीब आठ वर्ष पूर्व हार्ट अटैक (heart attack) से पोस्ट मास्टर की मौत हो गई थी और तब से आजतक उनके परिवार को किसी भी प्रकार का सरकारी लाभ नहीं मिला।

जानकारी के अनुसार मामला अमेठी के जिला मुख्यालय गौरीगंज स्थित वार्ड नंबर चार बरनाटीकर का है। यहां के निवासी तुलसीराम कश्यप पोस्ट ऑफिस में पोस्ट मास्टर के पद पर तैनात थे। 18 मई 2013 को उनकी हार्ट अटैक से मौत हो गई। वो अपने पीछे पत्नी समेत तीन संताने छोड़कर गए थे। इसमें मनीष और सतीश दो पुत्र व एक पुत्री दीपिका है़। जानकर हैरत होगी कि तुलसीराम के परिवार को सरकार की ओर से मिलने वाली मदद आजतक नहीं मिली।

अमेठी में पोस्ट मास्टर का परिवार

मृतक तुलसीराम के पुत्र सतीश ने बताया कि इसकी शिकायत उन्होंने अमेठी के पोस्ट ऑफिस के अधिकारियों से लेकर सुलतानपुर के अधिकारियों से की लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई। यही नहीं भाई मनीष को मृतक आश्रित कोटे से नौकरी देने के लिए परिवार की ओर से एफिडेविट तक दिया गया लेकिन न नौकरी ही मिली न पिता के फंड आदि के पैसे।

जीविका के लाले पड़े तो मृतक पोस्ट मास्टर के बेटों ने मजदूरी शुरु किया। 200-250 रुपए रोज कमा कर लाते हैं तो उससे परिवार का खर्च चलता है़। चौंकाने वाली बात ये है़ कि केंद्र सरकार उज्ज्वला योजना का डंका बजा रही है़ और यहां स्मृति ईरानी के संसदीय क्षेत्र में ये परिवार गोबर के उपले पर चूल्हा जलाकर भोजन तैयार कर रहा है़।

Shraddha

Shraddha

Next Story