×

PM Modi Balrampur Mein : आज सरयू नहर परियोजना का उद्घाटन करेंगे पीएम मोदी, यूपी को देगें बड़ी सौगात

पीएम मोदी बहराइच, श्रावस्ती एवं बलरामपुर से गोरखपुर तक जाने वाली 318 किलोमीटर लम्बी सरयू नहर परियोजना का बलरामपुर से उद्घाटन करेंगे।

Sushil Mishra
Report Sushil MishraPublished By Vidushi Mishra
Updated on: 2021-12-11T09:05:45+05:30
PM Balrampur Visit
X

आज बलरामपुर में पीएम मोदी (फोटो - सोशल मीडिया)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

PM Modi Balrampur Mein : देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज (शनिवार को) उत्तर प्रदेश के बलरामपुर दौरे पर आएंगें। यहां पर पीएम मोदी बहराइच, श्रावस्ती एवं बलरामपुर से गोरखपुर तक जाने वाली 318 किलोमीटर लम्बी सरयू नहर परियोजना का बलरामपुर से उद्घाटन (,PM Modi Balrampur Mein ) करेंगे।साथ ही पीएम मोदी यूपी को आज एक और बड़ी सौगात देंगे। इस परियोजना से 30 लाख किसानों को फायदा होगा।

यूपी के बलरामपुर में पीएम मोदी आज 12 बजकर 40 मिनट पर पहुंचेंगे। इसके बाद पीएम मोदी 12 बजकर 55 मिनट पर हेलीपैड से कार्यक्रम स्थल के लिए प्रस्थान करेंगे। और फिर यहां 1 बजे से 2 बजकर 10 मिनट तक सरयू नहर राष्ट्रीय परियोजना का लोकार्पण कार्यक्रम होगा। इस दौरान वे जनसभा को भी संबोधित करेंगे। फिर 2 बजकर 15 मिनट पर पीएम मोदी कार्यक्रम स्थल से प्रस्थान करेंगे। और बलरामपुर हेलीपैड से दिल्ली के लिए रवाना हो जाएंगें।

इस परियोजना को पूरा होते लगे कई साल

पिछले 43 वर्षों से अपने उत्थान की बांट जोह रही परियोजना को आखिरकार पूरा कर लिया गया है। 1978 में तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के समय महज दो जिलों के लिए शुरू की सिंचाई परियोजना का आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा लोकार्पण होगा। तब इसकी लागत लगभग 79 करोड़ रुपए थी। लेकिन विकास की सुस्त रफ्तार जमीन अधिग्रहण कानून में दिक्कतों और अन्य वजहों से इस परियोजना को पूरा होते होते करीब 50 साल लग गए। अब सरयू नहर राष्ट्रीय परियोजना बनकर तैयार है।

इसका लोकार्पण करने आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बलरामपुर आ रहे हैं, जिसके तहत सभी तैयारियां पूरी कर ली गयी है। मंच अब सज कर तैयार है। सुरक्षा व्यवस्था के लिए एसपीजी, सिविल पुलिस व अन्य सुरक्षा बल तैनात कर दिए गए हैं। वाहनों की पार्किंग की व्यवस्था भी सुदृढ़ कर ली गई है। तकरीबन 4,000 वाहनों से कार्यक्रम स्थल तक 2,00,000 लोगों को पहुंचाया जाएगा।

बलरामपुर की धरती से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पूर्वांचल की राजनीति को साधने का काम करेंगे भारतीय जनता पार्टी और उसके कार्यकर्ता इस रैली को सफलतम बनाने की कोशिश में जुटे हुए हैं भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं और संगठन में प्रधानमंत्री के आगमन के बाबत खासा उत्साह देखा जा रहा है।

प्रधानमंत्री तराई के जिस इलाके में आ रहे हैं। वहां से तीन मंडलों की लगभग 64 विधानसभा सीटें प्रभावित किया जा सकता है। यही वजह है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पूर्वांचल और तराई की राजनीतिक जमीन पर लगातार रैलियां कर रहे हैं।

किसानों के जीवन में क्रांतिकारी परिवर्तन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रस्तावित दौरे को लेकर पूरे मंडल की सभी छोटे बड़े अधिकारी तैयारी में जुटे हुए हैं। आज प्रधानमंत्री मोदी बलरामपुर जिले में बहराइच रोड पर स्थित हंसुवाडोल गांव के पास एक कार्यक्रम में शामिल होंगे।

वहीं से वह सरयू नहर राष्ट्रीय परियोजना को बटन दबा कर लोकार्पित करेंगे। इस दौरान कार्यक्रम स्थल पर तकरीबन 2 लाख लोगों के आने की संभावना है, जिन्हें प्रधानमंत्री मोदी जनसभा के दौरान संबोधित करेंगे। लोकार्पण कार्यक्रम का लाइव प्रसारण भी देश भर में होगा।

परियोजना पर जानकारी देते हुए राज्यमंत्री पलटू राम ने बताया कि सरयू नहर राष्ट्रीय परियोजना के लोकार्पण के बाद अब किसानों के जीवन में क्रांतिकारी परिवर्तन आएगा और यह परियोजना 9 जिलों के लिए वरदान साबित होगी।

उन्होंने कहा कि आजाद भारत में 78.68 करोड़ की लागत से 1978 में दो जिलों में सिंचाई के लिए राज्य सरकार ने छोटे स्तर पर इस परियोजना को शुरू किया था। चार साल बाद 1982 में इसे विस्तारित करते हुए बलरामपुर सहित नौ जिलों को इस परियोजना से जोड़ गया है। 2012 में इसका नाम परिवर्तितकर सरयू नहर राष्ट्रीय परियोजना कर दिया गया।

नाम परिवर्तन के साथ साथ इसकी लागत भी पुनरीक्षित कर 78.68 करोड़ से बढ़ कर 2021 तक 9802.68 करोड़ रुपये हो गई। साथ ही सिंचित क्षेत्र की क्षमता भी 3.12 लाख हेक्टेअर से बढ़कर 14.04 लाख हेक्टेअर पहुंच गयी।

5 नदियों को जोड़ा गया

हम आपको बताते चलें कि इस परियोजना के तहत 5 नदियों घाघरा, राप्ती, बाणगंगा, सरयू व रोहिणी नदी को आपस में जोड़ा गया है। इस परियोजना की पुनरीक्षित लागत 9802.68 करोड़ रुपये है। परियोजना पर मार्च 2021 तक 9562.68 करोड़ रुपये खर्च किए जा चुके हैं।

इस परियोजना के लिए कुल 25027.72 हेक्टेअर भूमि की आवश्यकता थी। इसके सापेक्ष 25021.497 हेक्टेअर भूमि विभाग ने पहले ही खरीद लिया है। सरयू नहर राष्ट्रीय परियोजना के तहत सरयू लिंक चैनल, सरयू मुख्य नहर तथा उसकी समस्त शाखाएं, राप्ती लिंक नहर व राप्ती मुख्य नहर का निर्माण कार्य पूरा हो चुका है। इससे पूर्वी उत्तर प्रदेश के बहराइच, गोंडा, श्रावस्ती, बलरामपुर, बस्ती, सिद्धार्थनगर, संतकबीर नगर, गोरखपुर व महराजगंज में सिंचाई सुविधा का विस्तार होगा।



Vidushi Mishra

Vidushi Mishra

Next Story