×

कांग्रेस का मिशन 2022: उत्तर प्रदेश फिशरमैन कांग्रेस के पदाधिकारियों की नियुक्ति

कांग्रेस का मिशन 2022: यूपी कांग्रेस बूथ स्तर तक अपने कार्यकर्ताओं को सक्रिय करने के काम लग गई है।

Congress Mission 2022
X

एक कार्यक्रम के दौरान अजय कुमार लल्लू (फोटो: सोशल मीडिया)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

लखनऊ: उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव (UP Assembly Election 2022) को लेकर कांग्रेस पार्टी (Congress) अपनी तैयारियों को तेज कर दिया है। यूपी कांग्रेस बूथ स्तर तक अपने कार्यकर्ताओं को सक्रिय करने के काम लग गई है। प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू (ajay kuamr lallu)बूथ स्तर तक अपने संगठन को मजबूत कर रहे हैं।

इसी क्रम में 29 जुलाई को आल इंडिया फिशरमैन कांग्रेस (All India Fisherman Congress) के राष्ट्रीय अध्यक्ष टीएन प्रतापन की संस्तुति पर उन्होंने उत्तर प्रदेश फिसरमैन कांग्रेस की प्रदेश कमेटी के नाम घोषित किये। जिसमें 6 प्रदेश उपाध्यक्ष, एक प्रदेश प्रमुख महासचिव, सात प्रदेश महासचिव के साथ एक प्रदेश संगठन सचिव और सात प्रदेश सचिव की नियुक्ति की गई है।



अजय कुमार लल्लू द्वारा जारी की गई लिस्ट में बागपत जिले के निवासी राजीव कश्यप को प्रदेश उपाध्यक्ष बनाया गया है। राजीव कश्यप के साथ ही इटावा के डॉ अमित कश्यप, सीतापुर के दिलीप कश्यप, सहारनपुर के सोमपाल कश्यप, अमरोहा के देवराज कश्यप और कानपुर नगर के राजू कश्यप को प्रदेश उपाध्यक्ष की जिम्मेदारी सौंपी है। जबकि मुजफ्फरनगर के सुरेश पाल कश्यप को प्रदेश प्रमुख महासचिव बनाया गया है।



इसी क्रम में शाहजहांपुर निवासी नरेंद्र कश्यप को प्रदेश सचिव की जिम्मेदारी मिली है। उनके साथ संभल के अखिलेश कश्यप, बरेली के अमित कश्यप, अमरोहा के राजू कश्यप, शामली के सतपाल कश्यप, कानपुर नगर के गोविंद कश्यप, सहारनपुर के निरंजन कश्यप को प्रदेश महासचिव नियु्क्त किया गया है। वहीं मुजफ्फरनगर के रहने वाले सचित कश्यप को प्रदेश संगठन का सचिव बनाया गया है। उनके साथ अलीगढ़ के परमवीर कश्यप, शाहजहांपुर के अश्वनी कश्यप, बागपत के प्रदीप कश्यप, मुजफ्फरनगर के आनंद कश्यप, बदायूं के हेमेंद्र कश्यप, सहारनपुर के बिट्टू कश्यप, बरेली के प्रेम कश्यप को प्रदेश सचिव की जिम्मेदारी सौंपी गई है।

बता दें कि उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव होने में एक साल से भी कम का समय बचा हुआ है। ऐसे में राजनीतिक दलों ने चुनाव में जीत के लिए तैयारियां शुरू कर दी हैं।


Dharmendra Singh

Dharmendra Singh

Next Story