Top

Lucknow University: इंजीनियरिंग के छात्र शिवम सिंह को स्टार्टअप 'ओरेजेन' के लिए मिले 75 हजार डॉलर

लखनऊ यूनिवर्सिटी के इंजीनियरिंग के छात्रों को उनके स्टार्टअप के लिए 75 हजार डॉलर की फंडिंग टेक्निकल क्रेडिट के रूप मे मिली है।

Krantiveer

KrantiveerReport KrantiveerAshiki PatelPublished By Ashiki Patel

Published on 22 July 2021 5:09 PM GMT

Lucknow University
X

लखनऊ यूनिवर्सिटी (फोटो: सोशल मीडिया))

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: लखनऊ यूनिवर्सिटी के इंजीनियरिंग संकाय के छात्र शिवम सिंह और उनकी टीम सिद्धार्थ सिंह, विकास राठौर को उनके स्टार्टअप "ओरेजेन" के लिए जार्टप इन्वेस्टमेंट कंपनी से लगभग 75 हजार डॉलर की फंडिंग टेक्निकल क्रेडिट के रूप मे मिली है।

कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग के थर्ड ईयर के छात्र शिवम सिंह के अनुसार जो छात्र टियर 2/टियर 3 या औसत निम्न कॉलेजों में पढ़ रहे हैं, उन्हें नौकरी पाने के लिए बहुत संघर्ष करना पड़ रहा है, क्योंकि अधिकांश छात्र, उद्योग बाजार की आवश्यकता के अनुरूप, उनके पास होने वाले कौशल से अनजान हैं और साथ ही साथ आज की शिक्षा प्रणाली और बाजार की जरूरतों के बीच बहुत बड़ा फर्क है। आज की शिक्षा प्रणाली और बाजार की जरूरतों के बीच के अंतर को कम करने के लिए शिवम सिंह ने एक गेमीफाइड लर्निंग एप "ओरेजेन" बनाने का सोचा।

ओरेजेन गेमीफाइड लर्निंग एक्सपीरियंस के साथ एक आगामी न्यू एज स्किल डेवलपमेंट प्लेटफॉर्म है। जो आपको वर्तमान दुनिया के लिए प्रासंगिक कौशल सिखाता है, जिससे आपको अच्छा करियर बनाने के लिए आवश्यक उपकरण और मानसिकता विकसित करने में मदद मिलती है। लेकिन इस प्लेटफार्म को डेवलप करने के लिए काफी फंड्स की जरूरत थी। इसके लिये टीम ने इस स्टार्टअप का पूरा पिच डेक, बिजनेस प्लान, कॉम्पेटिटिव एडवांटेज प्लान और फाइनेंसिंग प्लान बनाया।

एक विद्यार्थी के रूप में इन्वेस्टर्स को फंडिंग के लिए अपने स्टार्टअप पर भरोसा दिला पाना काफी मुश्किल होता है। इसके लिए 20 से ज्यादा इन्वेस्टर्स को अप्रोच कर उन्हे अपना फुल बिजनेस प्लान भेजा था। काफी सारे इन्वेस्टर्स के साथ कई इंटरव्यू होने के बाद आखिर मे जार्टप इन्वेस्टमेंट कंपनी में 2 राउंड के QNA और इंटरव्यू के बाद लगभग 75 हजार डॉलर की फंडिंग की, जिसकी मदद से वे अब अपने स्टार्टअप का मिनिमम वायबल प्रोडक्ट तैयार कर रहे हैं और जल्द ही वह अपना स्टार्टअप ओरेजेन प्लेस्टोर पर लांच करेंगे। जिससे छात्र एप को डाउनलोड करके मुफ्त में शीर्ष उद्योग विशेषज्ञों से नए युग के कौशल सीख सकेंगे जो उन्हें उनकी विशेषज्ञता में अच्छी नौकरी पाने में मदद करेगा।

लखनऊ यूनिवर्सिटी के इंजीनियरिंग संकाय का ट्रेनिंग प्लेसमेंट सेल, इस स्टार्टअप ओरेजेन को सफल बनाने के लिए पूरी मेंटोरशिप और मार्गदर्शन प्रदान कर रहा हैं, चाहे तो वह ओरेजेन का टॉप इंडस्ट्री एक्सपर्ट के साथ कोलैबरेशन,टॉप यूनिवर्सिटी और कॉलेज के साथ कोलैबरेशन हो या फिर स्टार्टअप के कस्टमर रिव्यू के लिए उसको छात्रों तक पहुँचना हो।

Ashiki

Ashiki

Next Story